1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. महाराष्ट्र विधानसभा में गाली-गलौज , बीजेपी के आरोपी 12 विधायकों स्पीकर ने किया सस्पेंड

महाराष्ट्र विधानसभा में गाली-गलौज , बीजेपी के आरोपी 12 विधायकों स्पीकर ने किया सस्पेंड

महाराष्ट्र विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर स्पीकर की कुर्सी पर विराजमान भाष्कर जाधव के साथ अर्मादित व्यवहार की मामला सामने आया है। ऐसा व्यवहार करने के आरोपी 12 भारतीय जनता पार्टी विधायकों को निलंबित कर दिया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

महाराष्ट्र। महाराष्ट्र विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर स्पीकर की कुर्सी पर विराजमान भाष्कर जाधव के साथ अर्मादित व्यवहार की मामला सामने आया है। ऐसा व्यवहार करने के आरोपी 12 भारतीय जनता पार्टी विधायकों को निलंबित कर दिया है।

पढ़ें :- Maharashtra Political Crisis Live: महाराष्ट्र विधानसभा में एकनाथ शिंदे गुट ने शिवसेना के दफ्तर को किया सील

कार्यवाहक स्पीकर भास्कर जाधव ने सदन को समझाया कि जब सदन स्थगित हुआ। तो बीजेपी के नेता मेरे केबिन में आए और विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस और वरिष्ठ नेता चंद्रकांत पाटिल के सामने मुझे गालियां दीं। कार्यवाहक स्पीकर भास्कर जाधव ने संसदीय मामलों के मंत्री से इस मुद्दे की जांच करने के लिए कहा है।

वहीं, विपक्ष ने यह भी आरोप लगाया कि कार्यवाहक स्पीकर भाष्कर जाधव ने विपक्षी दलों के नेता को भी गाली दी। बता दें कि दो दिवसीय मानसून सत्र के पहले दिन ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर विपक्ष ने सदन में हंगामा किया। जबकि विपक्ष का आरोप है कि कार्यवाहक स्पीकर भास्कर जाधव ने बोलने के लिए पर्याप्त समय नहीं दिया है। विपक्ष ने कार्यवाही का बहिष्कार किया।

जानें क्या है पूरा मामला?

विधानसभा ने सोमवार को एक प्रस्ताव पारित किया, जिसमें केंद्र से 2011 की जनगणना के आंकड़े उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है, ताकि राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग को ओबीसी आबादी का डेटा तैयार करने में सक्षम बनाया जा सके, ताकि स्थानीय निकायों में राजनीतिक आरक्षण बहाल किया जा सके।

पढ़ें :- केंद्र सरकार ने 20 जुलाई को बुलाई ऑल पार्टी मीटिंग, पीएम मोदी देंगे विपक्ष के सवालों का जबाव

एनसीपी नेता और राज्य के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल द्वारा पेश किए गए प्रस्ताव को भाजपा के सदस्यों के हंगामे के बीच ध्वनि मत से पारित कर दिया गया। इस दौराना भाजपा सदस्य सदन के वेल में आ गए और राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि प्रस्ताव राजनीति से प्रेरित है।

शिवसेना-एनसीपी ने बीजेपी पर लगाए आरोप

शिवसेना नेता सुनील प्रभु और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने आरोप लगाया कि भाजपा सदस्यों ने कार्यवाहक स्पीकर के साथ दुर्व्यवहार किया। अध्यक्ष के कक्ष में उनके साथ मारपीट की है। उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। इसके बाद डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल ने सदन को 15 मिनट के लिए स्थगित कर दिया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...