1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. सुप्रीम कोर्ट में यूपीएससी ने कहा-सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा स्थगित करना असंभव

सुप्रीम कोर्ट में यूपीएससी ने कहा-सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा स्थगित करना असंभव

Upsc Said In The Supreme Court Postponement Of Civil Service Preliminary Examination Impossible

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट को सोमवार संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) ने बताया कि सिविल सेवा प्रारंभिक 2020 को स्थगित करना असंभव है। यूपीएससी ने शीर्ष अदालत को बताया कि परीक्षा के सभी लॉजिस्टिकल व्यवस्था पहले ही की जा चुकी है। ऐसे में इस परीक्षा को स्थगित करना असंभव है। अब इस मामले में अगली सुनवाई 30 सितंबर को होगी।

पढ़ें :- उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत को SC से राहत, CBI जांच के आदेश पर रोक

न्यायमूर्ति एएम खानविल्कर की अध्यक्षता वाली तीन न्यायाधीशों की पीठ ने यूपीएससी से कहा कि वह इस तथ्य को हलफनामे में रखे और 29 सितंबर तक हलफनामा दाखिल करें। बता दें कि, सिविल सेवा प्रारंभिक चार अक्टूबर को प्रस्ताविक है। इसे स्थगित करने को लेकर सर्वोच्च न्यायालय में दायर एक याचिका पर आज कुछ देर के लिए सुनवाई हुई।

जिसमें यूपीएससी की तरफ से कहा गया कि प्रारंभिक परीक्षा में कई महत्वपूर्ण सेवाओं के लिए भर्ती प्रक्रिया शामिल है, इसलिए इसे और स्थगित नहीं किया जाना चाहिए। दरअसल, शीर्ष अदालत में दायर याचिका में कोरोना वायरस की वजह से पैदा हुई स्थिति के चलते यूपीएससी सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2020 को स्थगित करने की मांग की गई थी।

 

पढ़ें :- हाथरस केस पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला: इलाहाबाद HC की निगरानी में CBI करेगी जांच, अभी ट्रांसफर नहीं होगा ट्रायल

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...