UPSSSC: नलकूप चालक भर्ती परीक्षा रद्द, STF ने 11 को किया गिरफ्तार

UPSSSC: नलकूप चालक भर्ती परीक्षा रद्द, STF ने 11 को किया गिरफ्तार
UPSSSC: नलकूप चालक भर्ती परीक्षा रद्द, STF ने 11 को किया गिरफ्तार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चनय आयोग के तहत नलकूप ऑपरेटर्स (नलकूप चालक भर्ती परीक्षा) की रविवार को होने वाली परीक्षा स्थगित कर दी गई है। परीक्षा (UPSSSC Exam) स्थगित होने के चलते उम्मीदवारों में आक्रोश है। आयोग (UPSSSC) ने कहा कि परीक्षा की दूसरी तारीख जल्द ही घोषित कर दी जाएगी।

Upsssc Tubewell Operator Exam 11 Arrested In Paper Leak Case :

नलकूप चालक भर्ती पेपर लीक मामले में पांच मुन्ना भाई समेत 11 लोगों को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। इन आरोपियों के पास से 15 लाख रुपये, मोबाइल फ़ोन और कुछ दस्तावेज बरामद हुए हैं। पेपर लीक (UPSSSC Tubewell Operator Paper Leak) होने के बाद आयोग ने परीक्षा स्थगित कर दी है। एसटीएफ ने पेपर लीक गैंग पर शिकंजा कसा है। इस गैंग का सरगना अमरोहा में सरकारी शिक्षक है।

गौरतलब है कि नलकूप ऑपरेटर्स (Tubewell Operator) के लिए होने वाली परीक्षा राज्य के आठ जिलों में होने वाली थी। करीब 3210 पदों के लिए यह परीक्षा होनी है। जैसे ही पेपर लीक होने की खबर सामने आई, प्रशासनिक अमलों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में यूपीएसएसएसी ने इस परीक्षा को टालने का फैसला किया।

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की यह परीक्षा आठ जिलों के 394 केंद्रों पर होने वाली थी, जिनमें आगरा, बरेली, इलाहाबाद, गोरखपुर, कानपुर, वाराणसी, लखनऊ और मेरठ के केंद्र शामिल हैं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चनय आयोग के तहत नलकूप ऑपरेटर्स (नलकूप चालक भर्ती परीक्षा) की रविवार को होने वाली परीक्षा स्थगित कर दी गई है। परीक्षा (UPSSSC Exam) स्थगित होने के चलते उम्मीदवारों में आक्रोश है। आयोग (UPSSSC) ने कहा कि परीक्षा की दूसरी तारीख जल्द ही घोषित कर दी जाएगी।

नलकूप चालक भर्ती पेपर लीक मामले में पांच मुन्ना भाई समेत 11 लोगों को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। इन आरोपियों के पास से 15 लाख रुपये, मोबाइल फ़ोन और कुछ दस्तावेज बरामद हुए हैं। पेपर लीक (UPSSSC Tubewell Operator Paper Leak) होने के बाद आयोग ने परीक्षा स्थगित कर दी है। एसटीएफ ने पेपर लीक गैंग पर शिकंजा कसा है। इस गैंग का सरगना अमरोहा में सरकारी शिक्षक है।

गौरतलब है कि नलकूप ऑपरेटर्स (Tubewell Operator) के लिए होने वाली परीक्षा राज्य के आठ जिलों में होने वाली थी। करीब 3210 पदों के लिए यह परीक्षा होनी है। जैसे ही पेपर लीक होने की खबर सामने आई, प्रशासनिक अमलों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में यूपीएसएसएसी ने इस परीक्षा को टालने का फैसला किया।

उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की यह परीक्षा आठ जिलों के 394 केंद्रों पर होने वाली थी, जिनमें आगरा, बरेली, इलाहाबाद, गोरखपुर, कानपुर, वाराणसी, लखनऊ और मेरठ के केंद्र शामिल हैं।