1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UPTET Paper Leaked : निरस्त यूपीटीईटी परीक्षा जानें कब होगी आयोजित, यहां जानिए सब कुछ

UPTET Paper Leaked : निरस्त यूपीटीईटी परीक्षा जानें कब होगी आयोजित, यहां जानिए सब कुछ

UPTET Paper Leaked : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET 2021) का आयोजन रविवार 28 नवंबर को होने वाली थी। किंतु परीक्षा 10 बजे शुरू होते ही यूपीटीईटी का प्रश्न पत्र वॉट्सएप पर वायरल होने लगा।यूपी के 75 जिलों में ऑफलाइन मोड में सुबह 10 बजे यूपीटीईटी की परीक्षा की शुरुआत हुई थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

UPTET Paper Leaked : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (UPTET 2021) का आयोजन रविवार 28 नवंबर को होने वाली थी। किंतु परीक्षा 10 बजे शुरू होते ही यूपीटीईटी (UPTET )  का प्रश्न पत्र वॉट्सएप पर वायरल होने लगा।

पढ़ें :- UP TET घोटाले में दाल में कुछ काला नहीं, ​बल्कि पूरी दाल ही काली है : Priyanka Gandhi

यूपी के 75 जिलों में ऑफलाइन मोड में सुबह 10 बजे यूपीटीईटी  परीक्षा की शुरुआत हुई थी।

परीक्षा शुरू होने के कुछ देर बाद वॉट्सएप पर प्रश्न पत्र लीक होने की खबर प्राप्त होते ही एसटीएफ (STF)ने कई जगहों पर छापामारी शुरू कर दी।

छापामारी के दौरान 23 लोगों को गिरफ्तार किया और पेपर लीक होने की पुष्टि की।

पेपर लीक होने की पुष्टि के तुरंत बाद यूपीटीईटी 2021 की परीक्षा को राज्य सरकार ने निरस्त कर दिया है।

पढ़ें :- यूपी की भर्तियों में भ्रष्टाचार, पेपर आउट होना बन चुका है योगी सरकार की पहचान : Priyanka Gandhi

बेसिक शिक्षा मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी कहा कि यूपीटीईटी की परीक्षा के पेपर लीक होने की सूचना मिली है। इसलिए दोनों पालियों की परीक्षा तत्काल प्रभाव से निरस्त की जा रही है। पुनः एक महीने के भीतर अभ्यर्थियों से बिना कोई शुल्क लिए परीक्षा कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि एफआईआर कराने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही यूपी एसटीएफ को जांच सौंपी जा रही है, ताकि दोषियों को चिन्हित करके उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा सके।

परीक्षा निरस्त होने के बाद लॉ एंड ऑर्डर, एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा, आज होने वाली UPTET 2021 की परीक्षा कथित पेपर लीक के कारण रद्द कर दी गई है। पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने दर्जनों संदिग्धों को हिरासत में लिया, जांच जारी है। यूपी सरकार एक महीने के भीतर दोबारा कराएगी परीक्षा।

यूपीटीईटी की परीक्षा के पेपर लीक होने के अब एक महीने के भीतर राज्य सरकार एक महीने के भीतर दोबारा परीक्षा आयोजित कर सकती है।

यूपीटीईटी परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों को कोई भी परीक्षा शुल्क देने की जरूरत नहीं होगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...