1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. विपक्षी नेता पर हुए जानलेवा हमले को लेकर,अमेरिका ने रूसी अधिकारियों और कंपनियों पर लगाए प्रतिबंध

विपक्षी नेता पर हुए जानलेवा हमले को लेकर,अमेरिका ने रूसी अधिकारियों और कंपनियों पर लगाए प्रतिबंध

By शिव मौर्या 
Updated Date

वाशिंगटन। बाइडन प्रशासन द्वारा पहली बार रूस पर प्रतिबंध लगाया गया है। प्रशासन ने रूस के विपक्षी नेताओं पर कथित हमले और अमेरिकी एजेंसियों और कारोबारों को हैक करने को लेकर रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन से मुकाबला करने का मन बनाया हुआ है। बाइडेन प्रशासन ने यूरोपीय संघ के साथ प्रतिबंधों का समन्वय किया। ईयू पहले ही नवलनी मामले में रूस के कुछ अधिकारियों को प्रतिबंधित कर चुका है।

पढ़ें :- Peshawar Blast : पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने स्वीकारा- आतंकवाद के बीज हमने ही बोए

इससे आगे बढ़ते हुए बाइडन प्रशासन ने अमेरिकी रसायन एवं जैविक शस्त्र नियंत्रण एवं युद्ध उन्मूलन अधिनियम के तहत 14 व्यापार और अन्य उद्यमों पर भी प्रतिबंधों का ऐलान किया। इनमें से ज्यादातर जैविक रासायनिक जहर बनाते हैं। वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अमेरिकी खुफिया समुदाय का निष्कर्ष है कि रूस की संघीय सुरक्षा सेवा ने पिछले साल अगस्त में असंतुष्टों पर रूसी नर्व एजेंट (एक तरह का जहर) ‘नोविचोक’ का इस्तेमाल किया है।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...