अमेरिका ने यमन में अलकायदा नेता कासिम अल रिमी को मार गिराया

gassim
अमेरिका ने यमन में अलकायदा नेता कासिम अल रिमी को मार गिराया

नई दिल्ली। अमेरिकी फौजों ने यमन में शुक्रवार को आतंकनिरोधक अभियान के तहत अलकायदा सरगना कासिम अल-रिमी (46) को मार गिराया। व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के निर्देशन में अमेरिका ने यमन में एक आतंकवाद विरोधी अभियान चलाया, जिसमें अल कायदा के आतंकी कासिम अल-रिमी को मार गिराया गया है। वह अल-कायदा के अरब प्रायद्वीप ईकाई (AQAP) का संस्थापक था। वह अल-कायदा चीफ अयमान अल-जवाहिरी का करीबी था।

Us Kills Al Qaeda Leader Qasim Al Rimi In Yemen Donald Trump :

अलकायदा प्रमुख अयमान अल जवाहिरी के सहयोगी रिमी (46) को 2015 में अमेरिका के सर्वाधिक वांछित आतंकवादियों की सूची में शामिल किया गया था। अमेरिका ने रिमी की सूचना देने वाले को एक करोड़ डॉलर का पुरस्कार देने की घोषणा की थी। ट्रंप ने गुरुवार को कहा, ‘उसकी मौत एक्यूएपी और अलकायदा की वैश्विक मुहिम को और कमजोर करती है तथा यह हमें उन खतरों को दूर करने की दिशा में और नजदीक लाती है जो ये समूह हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए पैदा करते हैं।’

हालांकि, ट्रंप ने यह नहीं बताया कि अमेरिका ने यह अभियान कब चलाया और कैसे चलाया। एक्यूएपी को अलकायदा की सबसे खतरनाक इकाई माना जाता रहा है जो अमेरिका पर हमला करने की कोशिशें करता रहा है। रिमी ने 18 मिनट के अपने वीडियो में कहा था कि फ्लोरिडा में अमेरिकी नौसैन्य अड्डे पर छह दिसंबर को हुई गोलीबारी के पीछे उसी के समूह का हाथ था। इस हमले में एक सऊदी वायुसेना अधिकारी ने तीन अमेरिकी नाविकों की हत्या कर दी थी।  

नई दिल्ली। अमेरिकी फौजों ने यमन में शुक्रवार को आतंकनिरोधक अभियान के तहत अलकायदा सरगना कासिम अल-रिमी (46) को मार गिराया। व्हाइट हाउस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के निर्देशन में अमेरिका ने यमन में एक आतंकवाद विरोधी अभियान चलाया, जिसमें अल कायदा के आतंकी कासिम अल-रिमी को मार गिराया गया है। वह अल-कायदा के अरब प्रायद्वीप ईकाई (AQAP) का संस्थापक था। वह अल-कायदा चीफ अयमान अल-जवाहिरी का करीबी था। अलकायदा प्रमुख अयमान अल जवाहिरी के सहयोगी रिमी (46) को 2015 में अमेरिका के सर्वाधिक वांछित आतंकवादियों की सूची में शामिल किया गया था। अमेरिका ने रिमी की सूचना देने वाले को एक करोड़ डॉलर का पुरस्कार देने की घोषणा की थी। ट्रंप ने गुरुवार को कहा, 'उसकी मौत एक्यूएपी और अलकायदा की वैश्विक मुहिम को और कमजोर करती है तथा यह हमें उन खतरों को दूर करने की दिशा में और नजदीक लाती है जो ये समूह हमारी राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए पैदा करते हैं।' हालांकि, ट्रंप ने यह नहीं बताया कि अमेरिका ने यह अभियान कब चलाया और कैसे चलाया। एक्यूएपी को अलकायदा की सबसे खतरनाक इकाई माना जाता रहा है जो अमेरिका पर हमला करने की कोशिशें करता रहा है। रिमी ने 18 मिनट के अपने वीडियो में कहा था कि फ्लोरिडा में अमेरिकी नौसैन्य अड्डे पर छह दिसंबर को हुई गोलीबारी के पीछे उसी के समूह का हाथ था। इस हमले में एक सऊदी वायुसेना अधिकारी ने तीन अमेरिकी नाविकों की हत्या कर दी थी।