अमेरिका को निशाना बनाने की फिराक में उत्तर कोरिया, ये है वजह

kim-jong

नई दिल्ली। उत्तर कोरिया अपने मौजूदा केएन-20 अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल के एक उन्नत संस्करण पर काम कर रहा है, जिससे संभावित रूप से अमेरिका को निशाना बनाया जा सके। एक अमेरिकी अधिकारी ने सीएनएन को इस बात की जानकारी दी है।

अधिकारी ने बुधवार रात कहा कि यह नई आईसीबीएम किम जोंग-उन शासन जितनी जल्दी हो सके अपनी मिसाइल और परमाणु हथियारों की क्षमता को और सुधारने के त्वरित प्रयास का एक हिस्सा है।

{ यह भी पढ़ें:- अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद से तोड़ा नाता }

उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया के परमाणु ईंधन, मिसाइल लॉन्चरों, मार्गदर्शक और लक्ष्यीकरण प्रणालियों में भी अतिरिक्त सुधार किए जा रहे हैं। सीएनएन के मुताबिक, उत्तर कोरिया का यह कदम डोनाल्ड ट्रंप की एशिया यात्रा से पहले सामने आया है, जहां उत्तर कोरिया का परमाणु कार्यक्रम चर्चा का एक प्रमुख विषय होगा।

{ यह भी पढ़ें:- ट्रंप ने फि‍र बोला भारत पर हमला, कहा- हम तो ऐसी गुल्लक हैं जिसे हर कोई लूट रहा है }

नई दिल्ली। उत्तर कोरिया अपने मौजूदा केएन-20 अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल के एक उन्नत संस्करण पर काम कर रहा है, जिससे संभावित रूप से अमेरिका को निशाना बनाया जा सके। एक अमेरिकी अधिकारी ने सीएनएन को इस बात की जानकारी दी है। अधिकारी ने बुधवार रात कहा कि यह नई आईसीबीएम किम जोंग-उन शासन जितनी जल्दी हो सके अपनी मिसाइल और परमाणु हथियारों की क्षमता को और सुधारने के त्वरित प्रयास का एक हिस्सा है। उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया के…
Loading...