उसेन बोल्ट अपने करियर की अंतिम रेस में नहीं जीत पाए गोल्ड

लंदन | विश्व के दिग्गज धावक जमैका के उसेन बोल्ट अपने करियर की अंतिम 100 मीटर रेस में तीसरे स्थान पर रहे। विश्व एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में शनिवार को अमेरिका के जस्टिन गाटलिन ने बोल्ट को दोयम साबित करते हुए सबसे उम्रदराज विश्व चैम्पियन होने का गौरव हासिल किया।

अमेरिका के ही क्रिस्टियन कोलेमन (21) ने दूसरा स्थान हासिल किया। अब बोल्ट 12 अगस्त को अपने करियर की अंतिम 200 मीटर रेस में हिस्सा लेंगे, जो हमेशा से उनका पसंदीदा रहा है। बोल्ट के नाम 100 तथा 200 मीटर का विश्व रिकार्ड है।

अमेरिका के 35 वर्षीय खिलाड़ी गाटलिन ने 9.92 सेकेंड में इस रेस को पूरा किया, वहीं 21 वर्षीय कोलेमन ने 9.94 सेकेंड और बोल्ट ने 9.95 सेकेंड में रेस को पूरा कर तीसरा स्थान हासिल किया।

गाटलिन स्वर्ण पदक जीतने के साथ ही 100 मीटर रेस में विश्व चैम्पियनशिप का खिताब पाने वाले सबसे उम्रदराज एथलीट बन गए हैं। उन्होंने 12 साल पहले हेलसिकी में आयोजित विश्व चैम्पियनशिप में पुरुषों की 100 मीटर रेस का स्वर्ण जीता था। गाटलिन ने 10 साल के बाद अमेरिका को विश्व चैम्पियन में 100 मीटर रेस में स्वर्ण दिलाया है। 2007 में अंतिम बार अमेरिका के लिए टाईसन गे ने 100 मीटर रेस में स्वर्ण पदक अपने नाम किया था।

बोल्ट को पिछली बार भी 2013 में गाटलिन ने ही हराया था। उन्होंने छह जून, 2013 को आईएएएफ डायमंड लीग में बोल्ट को मात देकर स्वर्ण जीता था।