अकेला पड़ा पकिस्तान, चीन ने छोड़ा साथ, अब अमेरिका से पड़ी डांट

वाशिंगटन| उरी हमले में पाकिस्तान का हाथ पाए जाने के बाद उसे हर ओर से आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है| जहां उसके दोस्त चीन ने कश्मीर मुद्दे पर उसका साथ छोड़ दिया हैं तो वहीँ अमेरिका ने आतंकवाद को लेकर उसे डांट लगाईं हैं| अमेरिका के विदेश विभाग के उप प्रवक्ता मार्क टोन ने कहा कि पाकिस्तान को अपने घर में पनाह पाए आतंकियों को जल्द से जल्द कार्यवाई करनी चाहिए|




टोनर ने कहा कि हमने इस बारे में पहले भी पाकिस्तान से साफ-साफ बात की थी और हमने देखा है कि पाकिस्तान ने अपने इलाकों में चलने वाली आतंकवादी गतिविधियों पर कुछ लगाम लगाई है और अपनी सीमा के अंदर आतंकियों पर हमले किए हैं लेकिन, हम पाकिस्तान पर लगातार दबाव डालते रहेंगे कि वह उन आतंकवादियों को काबू करे जिनके बारे में कहा जाता है कि उन्होंने पाकिस्तान में पनाह ले रखी है और जो क्षेत्र में पाकिस्तान से बाहर भी हमले करने पर आमादा हैं|

टोनर ने कहा, “हम भारत और पाकिस्तान के बीच करीबी और सामान्य संबंध देखना चाहते हैं।” इससे पहले भारत ने उरी हमले के पीछे पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद का हाथ बताया है| मंगलवार को विदेश सचिव एस. जयशंकर ने पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित को तलब किया और और उरी हमले में पाकिस्तान के तार जुड़े होने के सबूत सौंपे और कार्रवाई करने की मांग की|



Loading...