गठिया को जड़ से खत्म कर देगा यह घरेलू नुस्खा

गठिया ,घरेलू नुस्खा
गठिया को जड़ से खत्म कर देगा यह घरेलू नुस्खा

लखनऊ। आजकल की व्यस्त दिनचर्या और गलत खानपान की की वजह से ज्यादातर महिलाओं में धीरे धीरे कैल्शियम की कमी होने लगती है। कई बार जो महिलाएं अपने बच्चों को लंबे समय तक ब्रेस्टफीडिंग करवाती है उनमें भी कैल्शियम की कमी देखने को मिलती है। बॉडी में कैल्शियम की कमी की वजह से हड्डियों में दर्द होने लगता है। आज हम आपको बताएँगे गठिया जैसी समस्या के लक्षण और घरेलू उपाय के बारे में।

दिनभर दफ्तर में घंटों बैठकर काम करना, गलत खानपान, नींद पूरी न होने के कारण कमर दर्द और पैर दर्द जैसी परेशानियां आम है। कई बार ये दर्द इतना ज्यादा हो जाता है कि इसे सहन करना मुश्किल हो जाता है। दर्द से राहत पाने के लिए अक्सर आप पेन किलर का सहारा लेते हैं, लेकिन यह भी कुछ देर के लिए ही दर्द से राहत दिला पाती है। अगर आप थोड़ा सा अपनी डाइट का ध्यान रखें तो आप कई परेशानियों को खुद से दूर रख सकते हैं। आज हम आपको एक ऐसी चीज के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके कमर, जोड़ों और घुटनों के दर्द को छू मंतर कर देगा।

{ यह भी पढ़ें:- मात्र 7 दिन में पाये मनचाहा गोरापन ,अपनाये ये घरेलू नुस्खा }

हम बात कर रहे हैं जायफल की। जो आसानी से बाजार में आपको 1 रुपये में एक मिल जाता है। फास्फोरस और कैल्शियम से भरपूर जायफल के सेवन से हड्डियां मजबूत होती है। इसके अलावा आपको हर तरह के दर्द से राहत भी मिलती है।

कैसे करें इस्तेमाल

{ यह भी पढ़ें:- घुटनों से आ रही चटखने जैसी आवाज तो हो जाएं सावधान नहीं तो }

जायफल को सबसे पहले पीसकर पाउडर बना लें।
रोजाना सुबह खाली पेट एक गिलास गुनगुने पानी के साछ थोडा से पाउडर मिलाकर पिएं।
कुछ दिनों में आपको इसका असर दिखने लगेगा।
आप चाहे तो तिल के तेल में जायफल को घिस कर हल्का गर्म कर लें और ठंडा होने पर दर्द वाली जगह पर इससे मालिश कर सकते हैं।

लखनऊ। आजकल की व्यस्त दिनचर्या और गलत खानपान की की वजह से ज्यादातर महिलाओं में धीरे धीरे कैल्शियम की कमी होने लगती है। कई बार जो महिलाएं अपने बच्चों को लंबे समय तक ब्रेस्टफीडिंग करवाती है उनमें भी कैल्शियम की कमी देखने को मिलती है। बॉडी में कैल्शियम की कमी की वजह से हड्डियों में दर्द होने लगता है। आज हम आपको बताएँगे गठिया जैसी समस्या के लक्षण और घरेलू उपाय के बारे में। दिनभर दफ्तर में घंटों बैठकर काम…
Loading...