उत्तर प्रदेश: राम मनोहर लोहिया अस्पताल पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ, दिये ये निर्देश

yogi adityanath
उत्तर प्रदेश: राम मनोहर लोहिया अस्पताल पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ, दिये ये निर्देश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार सुबह लखनऊ स्थित डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड का निरीक्षण करने पहुंचे। सीएम ने इमरजेंसी वार्ड में स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया साथ ही अस्पताल में भर्ती मरीजों से बातचीत कर उनका हालचाल भी जाना। इस दौरान उनके साथ यूपी के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना चिकित्सा मौजूद रहे।

Uttar Pradesh Cm Yogi Adityanath Reached Ram Manohar Lohia Hospital Gave These Instructions :

सीएम योगी आदित्यनाथ ने इमरजेंसी वार्ड में मरीजों की भीड़ को व्यवस्थित करने के निर्देश देने के साथ निर्देश दिया कि मरीजों के इलाज में कोई दिक्कत न हो। इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टरों की उपलब्धता हर वक्त बनी रहे। उन्होंने इमरजेंसी में डॉक्टर बढ़ाने के लिए भी कहा।उन्होंने इमरजेंसी वार्ड में कोविड-19 और सामान्य मरीजों की भर्ती के लिए व्यवस्थाएं देखीं। इमरजेंसी वार्ड में आने वाले मरीजों को किस तरह से रेड, येलो और ग्रीन जोन में भेजा जाता है इसके बारे में मुख्यमंत्री ने विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने मरीज के पर्चा काउंटर स्क्रीनिंग और फीवर क्लीनिक के बारे में भी पूछताछ की।

निदेशक प्रोफेसर एके त्रिपाठी ने संस्थान में की गई तैयारियों के बारे में जानकारी दी। मुख्यमंत्री योगी ने इमरजेंसी में आने पर कोरोना के संदिग्ध मरीजों को भर्ती करने के लिए अलग से बनाए गए वार्ड को भी देखा। इस दौरान मुख्य चिकित्सा सचिव (सीएमएस) डॉक्टर विक्रम सिंह, डॉ. भुवन चंद तिवारी, डॉ. श्रीकेश सिंह, डॉ. राजीव रतन सिंह आदि मौजूद रहे।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार सुबह लखनऊ स्थित डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड का निरीक्षण करने पहुंचे। सीएम ने इमरजेंसी वार्ड में स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया साथ ही अस्पताल में भर्ती मरीजों से बातचीत कर उनका हालचाल भी जाना। इस दौरान उनके साथ यूपी के चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना चिकित्सा मौजूद रहे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इमरजेंसी वार्ड में मरीजों की भीड़ को व्यवस्थित करने के निर्देश देने के साथ निर्देश दिया कि मरीजों के इलाज में कोई दिक्कत न हो। इमरजेंसी वार्ड में डॉक्टरों की उपलब्धता हर वक्त बनी रहे। उन्होंने इमरजेंसी में डॉक्टर बढ़ाने के लिए भी कहा।उन्होंने इमरजेंसी वार्ड में कोविड-19 और सामान्य मरीजों की भर्ती के लिए व्यवस्थाएं देखीं। इमरजेंसी वार्ड में आने वाले मरीजों को किस तरह से रेड, येलो और ग्रीन जोन में भेजा जाता है इसके बारे में मुख्यमंत्री ने विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने मरीज के पर्चा काउंटर स्क्रीनिंग और फीवर क्लीनिक के बारे में भी पूछताछ की। निदेशक प्रोफेसर एके त्रिपाठी ने संस्थान में की गई तैयारियों के बारे में जानकारी दी। मुख्यमंत्री योगी ने इमरजेंसी में आने पर कोरोना के संदिग्ध मरीजों को भर्ती करने के लिए अलग से बनाए गए वार्ड को भी देखा। इस दौरान मुख्य चिकित्सा सचिव (सीएमएस) डॉक्टर विक्रम सिंह, डॉ. भुवन चंद तिवारी, डॉ. श्रीकेश सिंह, डॉ. राजीव रतन सिंह आदि मौजूद रहे।