1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Big News : खुली जगहों पर शादी समारोह की योगी सरकार ने दी इजाजत, जानें क्या है नई गाइडलाइन

Big News : खुली जगहों पर शादी समारोह की योगी सरकार ने दी इजाजत, जानें क्या है नई गाइडलाइन

यूपी में कोरोना संक्रमण (Corona Virus) को लेकर कई तरह की बंदिशों से अब योगी सरकार धीरे—धीरे ढ़ील देती जा रही है। मंगलवार को योगी सरकार (Yogi Government) ने प्रदेश में शादी और अन्य समारोह के आयोजन को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है। नई गाइडलाइंस के मुताबिक अब खुले स्थानों पर शादी समारोह और अन्य कार्यक्रमों के आयोजन की इजाजत दे दी गई है। समारोह में शामिल होने की संख्या एरिया पर निर्भर करेगी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी में कोरोना संक्रमण (Corona Virus) को लेकर कई तरह की बंदिशों से अब योगी सरकार धीरे—धीरे ढ़ील देती जा रही है। मंगलवार को योगी सरकार (Yogi Government) ने प्रदेश में शादी और अन्य समारोह के आयोजन को लेकर नई गाइडलाइंस (New Guidelines) जारी की है। नई गाइडलाइंस के मुताबिक अब खुले स्थानों पर शादी समारोह और अन्य कार्यक्रमों के आयोजन की इजाजत दे दी गई है। समारोह में शामिल होने की संख्या एरिया पर निर्भर करेगी।

पढ़ें :- CM Yogi का बड़ा फैसला, फैजाबाद रेलवे जंक्शन अब अयोध्या कैंट के नाम से जाना जाएगा

योगी सरकार (Yogi Government)  के तरफ से जारी की गई नई गाइडलाइन (Guidelines for Marriage in UP) के मुताबिक, इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल (Covid Protocol) का पालन किया जाना अनिवार्य है। इसके साथ ही आयोजनकर्ता को प्रवेश द्वार पर कोविड हेल्प डेस्क (covid help desk) की स्थापना करनी होगी।

बता दें कि इससे पहले योगी सरकार (Yogi Government)  ने त्योहारों को लेकर गाइडलाइंस (Guidelines) जारी की थी। इस साल शारदीय नवरात्र (Sharadiya Navratri) , विजयादशमी, दशहरा और चेहल्लुम त्योहार (chehallum festival) को देखते हुए कानून व्यवस्था (Law and Order) एवं सांप्रदायिक सौहार्द (Communal Harmony) बनाए रखने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। निर्देशों में कहा गया है कि दुर्गा पूजा पंडाल (Durga Puja Pandal) व रामलीला मंच (Ramlila Manch) के स्थापना की अनुमति देते समय इस बात का ध्यान रखा जाए कि सार्वजनिक आवागमन प्रभावित न हो। मूर्तियों की स्थापना पारंपरिक परंतु खाली स्थान पर की जाए और उनका आकार यथासंभव छोटा रखा जाए, मैदान में क्षमता से अधिक लोग न रहे। आदेश में स्पष्ट कहा गया है कि मूर्तियों के विसर्जन में यथासंभव छोटे वाहनों का प्रयोग किया जाए तथा मूर्ति विसर्जन (Idol Immersion) कार्यक्रम में कम लोग ही शामिल हों।

बता दें कि यूपी में 24 घंटे में हुई 01 लाख 69 हजार 500 सैम्पल की टेस्टिंग में 71 जिलों में संक्रमण का एक भी नया केस नहीं पाया गया। मात्र 04 जनपदों में 07 नए संक्रमित मरीज पाए गए। इसी अवधि में 06 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए। वर्तमान में प्रदेश में एक्टिव कोविड केस की संख्या 176 रह गई है। 16 लाख 86 हजार 712 प्रदेशवासी कोरोना संक्रमण से मुक्त होकर स्वस्थ हो चुके हैं। यह सतर्कता और सावधानी बरतने का समय है। थोड़ी सी लापरवाही संक्रमण को बढ़ाने का कारक बन सकती है। ऐसे में दूसरे प्रदेशों से उत्तर प्रदेश आ रहे लोगों की कोविड जांच सुनिश्चित कराएं। कोविड से बचाव के लिए प्रदेश में टीकाकरण की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। 55 फीसदी से अधिक लोगों ने वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त कर ली है। दूसरी डोज लगाने के लिए विशेष अभियान की जरूरत है।

पढ़ें :- वरुण गांधी ने Yogi Government को घेरा बोले- आम आदमी को जब उसके हाल पर छोड़ दिया तो फिर सरकार का क्या मतलब?
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...