अमेठी में पत्रकार पर हमला, ‘दिलेर दिलीप’ की ‘खबरों से खौफ’ क्यों ?

अमेठी। यूपी के अमेठी में पत्रकारिता दिनों-दिन मुश्किल बनती जा रही है जैसे-जैसे समाज में अत्याचार, भ्रष्टाचार, दुराचार और अपराध बढ़ रहा है, पत्रकारों पर हमले की घटनाएं भी बढ़ रही हैं। मीडिया और पत्रकारों पर हमला वही करते हैं या करवाते हैं जो इन बुराइयों में डूबे हुए हैं ऐसे लोग दोहरा चरित्र जीते हैं। कुछ ऐसा ही मामला यहां पर घटित हुआ, जिसमें एक दैनिक समाचार पत्र के पत्रकार पर जानलेवा हमला हुआ और बदमाश फरार हो गए। पुलिस पूरे मामले की जांच-पड़ताल में जुटी हुई है।

योगी सरकार में सुरक्षित नही रहे पत्रकार-

{ यह भी पढ़ें:- केजीएमयू चाइल्ड वार्ड में हंगामा, बेटे की मृत्यु की आशंका पर डॉक्टरों से भिड़ा पिता }

मामला अमेठी के जगदीशपुर कस्बे का है जहां रविवार की शाम एक हिंदी दैनिक अखबार के पत्रकार दिलीप कौशल कस्बे में ही बने अपने मकान के सामने बैठे हुए थे। इसी बीच बाइक से पहुंचे तीन अज्ञात हमलावरों ने दिलीप कौशल को गोली मार दी और वहां से फरार हो गए। गोली दिलीप के कंधे के नीचे बाजुओं में लगी। घायल पत्रकार को इलाज के लिए सीएचसी ले जाया गया, जहां चिकित्सको ने घायल दिलीप को सीएचसी से लखनऊ के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। बता दें कि इससे पहले भी दिलीप पर हमला हो चुका है जिससे ये स्पष्ट है कि इस कलमकार की कलम किन्हीं भ्रष्ट तत्वो की राह में बाधा पहुंचा रही है ।

यूपी में पत्रकार, खास तौर पर जनपद या कस्बो के पत्रकार, अपराधियों के निशाने पर क्यों रहता है। जनपद में काम कर रहे पत्रकारों की रिपोर्टिंग अधिकतर स्थानीय स्तर के भ्रष्टाचार, ग्राम पंचायत के फैसलों, ग्राम सभा की गतिविधियों, सड़कों की बदहाली, बिजली की समस्या, स्थानीय अधिकारियों, विधायको के कारनामों और स्थानीय आपराधिक मामलों आदि पर केंद्रित रहती है। अक्सर यह देखा गया है कि ख़बरों से बड़े खुलासे होने की संभावनाएं होती हैं। जिससे कलम भ्रष्ट लोगो राह में बाधा उत्तपन्न कर देती है।

{ यह भी पढ़ें:- यूपी के युवा खिलाड़ियों को राष्ट्रीय पहचान दिलाएगा मेधज स्पोर्टस क्लब }

चंद कदम की दूरी पर है थाना-

बता दें कि घटनास्थल से महज चंद कदम की दूरी पर दिलीप पर हमला किया गया। हैरानी की बात यह है कि जिस चौराहे पर पुलिस मुस्तैद रहती है, उसी चौराहे से बाइक सवार तेन बदमाश बेखौफ गुजर गये और घटना को अंजाम दे डाला।

रिपोर्ट-राम मिश्रा

{ यह भी पढ़ें:- सावधान: यहां भी लग सकता 'सांस का आपातकाल', दिल्ली की राह पर 'अमेठी' }

Loading...