मेरठ पुलिस की छापेमारी में बरामद हुई 25 करोड़ की पुरानी करेंसी, चार लोग गिरफ्तार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की मेरठ पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। नोटबंदी के बाद पुलिस ने प्रॉपर्टी डीलर के ऑफिस पर छापा मारकर 25 करोड़ रुपए की पुरानी करेंसी बरामद की है। पुलिस ने मौके से चार आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है। आशंका है कि नोटबंदी के बाद अभी भी पुराने नोटों को बदलने का गोरखधंधा चोरी छुपे चल रहा है। पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार लोगों से रकम के संबंध में पूछताछ जारी है।

मिली जानकारी के मुताबिक, मेरठ शहर के दिल्ली रोड स्थित राजकमल एंक्लेव में प्रॉपर्टी डीलर संजीव मित्तल का ऑफिस है। पुलिस ने इसी ऑफिस पर छापेमारी की कार्रवाई की है। बताया जा रहा है कि छापा पड़ने से पहले ही संजय मित्तल फरार हो गया। एसपी सिटी मान सिंह चौहान के मुताबिक दिल्ली के दिल्ली के एक व्यक्ति के जरिए कमीशन पर पुराने नोट बदलने का सौदा तय हुआ था।

{ यह भी पढ़ें:- अमानवीय चेहरा: दम तोड़ रहे थे युवक, पुलिस कर्मियों ने नहीं पहुंचाया अस्पताल }

उनके मुताबिक, पुलिस पिछले आठ 10 दिन से इंटरसेक्शन सर्विलांस और अन्य माध्यम से इस पर नजर बनाए हुए थे। शुक्रवार दोपहर सटीक सूचना पर कंकरखेड़ा इंस्पेक्टर दीपक शर्मा ने दिल्ली रोड पर राजकमल एंक्लेव में मंदिर के सामने स्थित प्रॉपर्टी डीलर संजीव मित्तल के कार्यालय पर छापा मारा।

पुलिस एक मुताबिक, इस ऑफिस से प्लास्टिक के 10 कट्टों में तकरीबन 25 करोड़ रुपए की पुरानी करेंसी बरामद हुई है। पुलिस ने सौदा कराने वाले दिल्ली के व्यक्ति सहित चार आरोपियों को मौके से गिरफ्तार किया है। पुलिस का दावा है कि नोटबंदी के बाद से अब तक की यह सबसे बड़ी रिकवरी है।

{ यह भी पढ़ें:- पुरानी करेंसी बदलने के चक्कर में ठुकेगा 500 करोड़ का जुर्माना }

Loading...