चुनाव से पहले ही घुटने टेक चुकी है सपा : मौर्य

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के चुनाव पूर्व गठबंधन की मंशा जताने से साफ हो गया है कि समाजवादी पार्टी अगले साल होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव से पहले ही अपनी हार स्वीकार कर चुकी है। भाजपा में हाल ही में शामिल हुये अन्य दलों के नेताओं की मौजूदगी में मौर्य ने रविवार को पत्रकारों से कहा कि आधी-अधूरी परियोजनाओं का मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की ओर से किया जाने वाला उद्घाटन यह बताने के लिये काफी है कि सपा दोबारा सत्ता में नहीं आ रही है।




उन्होंने कहा कि हार के अंदेशे से बौखलाये यादव अब अन्य पार्टियों से गठबंधन में खासी रुचि ले रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा के प्रति बढ़ते रुझान से सपा के अलावा बहुजन समाज पार्टी को भी अपनी निश्चित हार नजर आ रही है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती इन दिनों मोदी फोबिया से ग्रसित नजर आ रही हैं। नोटबंदी के बाद वह हर जगह इस मामले में अपनी भड़ास निकाल रही हैं।

उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार और कालेधन के खिलाफ प्रधानमंत्री के साथ खड़ी प्रदेश की जनता मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव की बयानबाजी से उकता गयी है और आने वाले चुनाव में दोनों को इसका जवाब देने का मन बना चुकी है। इस मौके पर मौर्य के साथ बसपा छोड़ भाजपा में शामिल हुये विधायक इंद्रपाल सिंह और कांग्रेस का हाथ छोड़ भाजपा का दामन थामने वाली रीता बहुगुणा जोशी समेत भाजपा के अन्य नेता भी मौजूद थे।