गैंगरेप के बाद किशोरी को फांसी पर लटकाया

कन्नौज। उत्तर प्रदेश में सरकार की लाख कोशिशों के बावजूद महिलाओं के साथ यौन अपराध की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। ताजा मामला कन्नौज से है जो बेहद हैरान कर देने वाला है। यहां देर रात शौचक्रिया के लिए घर से निकली किशोरी का शव सुबह पेड़ से लटका मिला। परिजनों ने गैंगरेप के बाद हत्याकर किशोरी के शव को पेड़ से लटकाने का आरोप लगाते हुए गांव के चार युवकों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया है।




प्राप्त जानकारी के अनुसार, सेमलपुर गांव में मंगलवार सुबह शौचक्रिया को गए ग्रामीणों ने एक बाग में पेड़ से लटकता किशोरी का शव देखा। ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंचे परिजनों ने किशोरी की शिनाख्त की। ग्रामीणों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। सूचना पर क्षेत्राधिकारी सोमेन्द्र कुमार नेगी, छिबरामऊ प्रभारी निरीक्षक राजबहादुर सिंह, विशुनगढ़ थानाध्यक्ष सुरेश कुमार पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और घटना के सम्बंध में जानकारी लेकर शव को पेड़ से नीचे उतरवाया।

मृतका के भाई ने बताया कि सोमवार रात उसकी बहन मां के साथ घर में सो रही थी। रात करीब दस बजे उसकी बहन शौचक्रिया के लिए घर से बाहर निकली। काफी देर तक जब वह वापस नहीं लौटी तो परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की लेकिन उसका कहीं पता नहीं चल सका। सुबह शौचक्रिया को गये ग्रामीणों ने किशोरी का शव पेड़ से लटके होने की जानकारी दी।




मृतका के भाई का आरोप है कि गांव के यशपाल पुत्र रामसेवक, अनुज पुत्र दिनेश, सचिन पुत्र रंगलाल व धम्रेद्र पुत्र मूलचन्द्र आये दिन लड़कियों के साथ छींटाकशी करते हैं। उसने आरोप लगाया कि उक्त युवकों ने उसकी बहन के साथ सामूहिक दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर शव को पेड़ से लटका दिया। पुलिस ने मृतका के भाई की तहरीर पर चारों आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप के बाद हत्या का मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। साथ ही किशोरी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।