मदरसा शिक्षकों को अब मिलेगा 15 हजार मानदेय

लखनऊ। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आधुनिक मदरसा शिक्षकों की मांग को मानते हुए इनके मानदेय में राज्य सरकार की तरफ से 1000 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है। अब मदरसा आधुनिकीकरण योजना में तैनात शिक्षकों को 15 हजार रुपये महीने मानदेय मिलेगा। इस नयी व्यवस्था से राज्य सरकार के खजाने पर 15 करोड़ रुपये का अतिरिक्त व्यय भार पड़ेगा।इस सम्बन्ध में सोमवार को मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी है।



राज्य में मदरसा आधुनिकीकरण योजना के तहत कार्यरत परास्नातक तथा स्नातक के सात बीएड अर्हताधारी आधुनिक विषयों के शिक्षकों को अभी तक 14 हजार रुपये प्रतिमाह मानदेय मिल रहा था। मगर ये शिक्षक सरकार से 15 हजार रुपये की मांग कर रहे थे।योजना में अभी तक केन्द्र सरकार 12 हजार रुपये तो राज्य सरकार 2000 रुपये प्रतिमाह अपना अंशदान दे रही थी।

मगर अब राज्य सरकार ने अपनी अंशदान राशि में 1000 रुपये प्रतिमाह की वृद्धि कर उसे 3000 रुपये कर दिया है। कैबिनेट ने इस प्रस्ताव में किसी तरह के परिवर्तन के लिए मुख्यमंत्री को अधिकृत किया है।

Loading...