नोएडा के 2 पड़ोसी के झगड़े पर मायावती और योगी आमने-सामने

नोएडा के 2 पड़ोसी के झगड़े पर मायावती और योगी आमने-सामने
नोएडा के 2 पड़ोसी के झगड़े पर मायावती और योगी आमने-सामने

Uttar Pradesh Noida Retired Colonel Arrest Case Police Jawan Adm Dispute Suspended

लखनऊ। यूपी के नोएडा में जारी चर्चित एडीएम और रिटायर्ड कर्नल का विवाद ने अब राजनीतिक का रुप ले लिया है। एक पक्ष के साथ खड़े हैं मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ तो दूसरे पक्ष के साथ पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती। आपको बता दें कि सीएम योगी के निर्देश पर रिटायर्ड कर्नल वीरेंद्र प्रताप सिंह चौहान से मारपीट के मामले में मुजफ्फरनगर के एडीएम हरिशचंद्र को निलंबित कर दिया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एडीएम हरिश्चंद्र की पत्नी उषा ने मायावती से दिल्ली में मुलाकात की है। बताया जा रहा है कि इसके बाद मायवाती के कहने पर नेता लालजी वर्मा ने सीएम योगी से भेंट मुलाकत की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि सिर्फ दलित होने के कारण एडीएम को परेशान किया जा रहा है।

ये है पूरा मामला

ऐसे में अब यह पड़ोस‍ियों का सामान्‍य विवाद काफी बड़ा हो चुका है। आपको बता दें कि कर्नल के पड़ोस में रहने वाले एडीएम से अवैध निर्माण को लेकर विवाद शुरू हुआ था। इसके बाद 14 अगस्‍त को कर्नल के साथ मारपीट की गई। यही नहीं पीसीएस अधिकारी की पत्नी की शिकायत पर रिटायर्ड कर्नल और तीन अज्ञात लोगों पर मारपीट, SC/ST और छेड़छाड़ सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज़ कर नोएडा कोतवाली सेक्टर-20 पुलिस ने बिना किसी जांच के पीड़िता की तहरीर पर रिटायर्ड कर्नल को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था।

पुलिस ने रिटायर्ड कर्नल को हथकड़ी पहनाकर कोर्ट में पेश किया था। यही नहीं थाने में उन्‍हें फर्श पर बैठाया गया था। जिससे शहर के पूर्व सैनिक नाराज थे। पूर्व सैनिकों ने इसकी शिकायत डीएम से की और रिटायर्ड कर्नल के बेकसूर होने के साक्ष्य दिए। साथ ही पूर्व सैनिकों के दबाव में राज्‍य सरकार भी हरकत में आई और पीड़‍ित कर्नल को हर तरह की मदद करने का आदेश दिया गया।

तो वहीं दूसरे पक्ष ने एडीएम की पत्नी का रोते हुए एक वीडियो जारी किया। इसमें उसने आरोप लगाया है कि उसे दलित होने की वजह से परेशान किया जा रहा है। एडीएम पक्ष के लोग उनपर लगे हत्या के प्रयास, मारपीट आदि के आरोपों को हटाने की मांग कर रहें हैं। बता दें कि कर्नल अब जेल से बाहर आ गए हैं। जेल से निकलते ही उनके मित्रों व अन्य अधिकारियों ने जबरदस्त स्वागत किया।

लखनऊ। यूपी के नोएडा में जारी चर्चित एडीएम और रिटायर्ड कर्नल का विवाद ने अब राजनीतिक का रुप ले लिया है। एक पक्ष के साथ खड़े हैं मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ तो दूसरे पक्ष के साथ पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती। आपको बता दें कि सीएम योगी के निर्देश पर रिटायर्ड कर्नल वीरेंद्र प्रताप सिंह चौहान से मारपीट के मामले में मुजफ्फरनगर के एडीएम हरिशचंद्र को निलंबित कर दिया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक एडीएम हरिश्चंद्र की पत्नी उषा ने मायावती से दिल्ली…