कानपुर: नोटबंदी के बाद सबसे बड़ी छापेमारी, होटल के कमरे से मिले 100 करोड़ के पुराने नोट

100 crore in Demonetized Currency seized in UP, Demonetization,Demonetized Currency,Demonetized Currency seized in Kanpur ,Note Ban,NoteBandi , नोटबंदी , एनआईए, क्राइम ब्रांच की छापेमारी , पुराने नोट बरामद , बंद किए हुये रुपये , पुराने नोट , कानपुर मे मिले 100 करोड़ के पुराने नोट
डेमो फोटो

कानपुर। नोटबंदी के करीब 14 महीने बीतने के बाद यूपी के कानपुर जिले के एक इलाके से करोड़ों रुपये के पुराने नोट मिलने से सनसनी फैल गई है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) और उत्तर प्रदेश पुलिस की ज्वाइंट रेड में कानपुर में 97 करोड़ रुपये मूल्य के ये सभी नोट 500 और 1000 रुपये के बंद हो चुके नोट हैं, जिनको बिस्तर बनाकर रखा गया था।जिसे छापे के बाद जब्त कर लिया गया। इस मामले में पुलिस ने 16 को हिरासत में लिया है।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, कानपुर पुलिस को एक बंद घर में बड़ी मात्रा में पुराने नोटों के होने के बारे में पता चला।  इन नोटों को बदलवाने की बात करने वालों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। बिजनेसमैन और बिल्डर अशोक खत्री के घर रेड मारी। उत्तर प्रदेश पुलिस ने एनआईए के इनपुट्स पर यह कार्रवाई की। कानपुर पुलिस, एनआईए, क्राइम ब्रांच की छापेमारी के दौरान मनीचेंजरों के पास से बरामद पुरानी करेंसी की गिनती पूरी हो गई है। 97 करोड़के 500 व 1 हजार के नोट मिले हैं। बाकी दूसरे ठिकानों से इकट्ठा की गई पुरानी करेंसी की गिनती की जा रही  है।

{ यह भी पढ़ें:- पुरानी करेंसी बदलने के चक्कर में ठुकेगा 500 करोड़ का जुर्माना }

बता दें कि 8 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोटों को प्रतिबंधित कर दिया था। इसके बाद आरबीआई ने 500 और 2000 हजार रुपये के नए नोट जारी किए थे। 31 मार्च पुराने नोट बैंक में जमा करने की आखिरी तारीख थी। नोटबंदी के 14 महीने बाद 97 करोड़ के 500 और हजार के पुराने नोट मिले हैं।

{ यह भी पढ़ें:- देश की टकसालों ने सिक्कों का प्रोडक्शन रोका }

Loading...