1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड: चार धाम यात्रा के बाद अब कांवड़ यात्रा पर लगी रोक, आदेश जारी

उत्तराखंड: चार धाम यात्रा के बाद अब कांवड़ यात्रा पर लगी रोक, आदेश जारी

कोरोना महामारी को देखते हुए शिव भक्तों की कांवड यात्रा इस वर्ष भी देव भूमि उत्तराखण्ड में स्थगित रहेगी। राज्य सरकार ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगाने के लिए आदेश जारी किए हैं।

By अनूप कुमार 
Updated Date

नई दिल्ली: कोरोना महामारी को देखते हुए शिव भक्तों की कांवड यात्रा इस वर्ष भी देव भूमि उत्तराखण्ड में स्थगित रहेगी। राज्य सरकार ने कांवड़ यात्रा पर रोक लगाने के लिए आदेश जारी किए हैं। कोरोना महामारी की तीसरी लहर की संभावनाओं को देखते हुए उत्तराखंड सरकार किसी भी प्रकार की ढ़िलाई नहीं बरतना चाहती है।

पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट की केरल सरकार को फटकार, कहा- जीवन के अधिकार से बड़ा कुछ नहीं, जानें क्या है मामला

दरअसल, कोरोना संकट के बीच हरिद्वार कुंभ आयोजित करने पर उत्तराखंड सरकार की काफी आलोचना हुई। महामारी के प्रकोप को देखते हुए कुंभ का समापन बीच में ही करना पड़ा। अब कांवड़ यात्रा को लेकर उत्तराखंड सरकार कोई लापरवाही नहीं करना चाहती। कोरोना संक्रमण फैलने में कुंभ आयोजन को भी एक कारण माना जाता है। समझा जाता है कि अब कांवड़ यात्रा को अनुमति देकर उत्तराखंड सरकार अपने लिए एक और समस्या खड़ी नहीं करना चाहती इसलिए उसने एहतियातन यह फैसला किया है।

मुख्य सचिव ओमप्रकाश के निर्देश के बाद शहरी विकास विभाग ने कांवड़ यात्रा से संबंधित आदेश जारी किए हैं। सावन के महीने में हर साल कांवड़ यात्रा में देशभर से श्रद्धालु उत्तराखंड आते हैं और पवित्र नदियों से जल भरते हैं। कांवड़ियों की आवाजाही से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बना रहेगा।

देश में कोरोना महामारी की तीसरी लहर के आने की आशंका है। इसे देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने चार धाम यात्रा पर रोक लगाई चुकी है।

उत्तराखंड देवों की भूमि है। सावन के महीने में यहां बड़ी संख्या में कांवड़िए हर साल नदियों का पवित्र लेने के लिए आते हैं। कांवड़ यात्रा सावन के महीने (जुलाई-अगस्त) के दौरान संपन्न होती है।

पढ़ें :- कांवड़ यात्रा पर यूपी सरकार के जवाब से संतुष्ट SC, निस्तारित किया गया मामला

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...