सीमा पर चीनी सैनिकों की घुसपैठ, एक घंटे बाड़ाहोती में जमे रहे चीन के सैनिक

देहरादून। उत्तराखंड के चमोली जिले में चीनी सैनिक करीब एक घंटे तक बाड़ाहोती में जमे रहे। सिक्किम से सटे डोकलाम इलाके में भारत और चीन के सीमा विवाद के बीच यह वाकया हुआ है। वहीं जिला प्रशासन घुसपैठ से साफ इंकार कर रहा है।

मामला 26 जुलाई का है, जबकि अगले दिन राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ब्रिक्स के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की मीटिंग में हिस्सा लेने चीन जाने वाले थे। चीनी सैनिक उत्तराखंड की सीमा में 300 मीटर तक अंदर की ओर आ गए और लगभग एक घंटे से ज्यादा समय तक रहे। चीन के सैनिकों को आईटीबीपी के विरोध के बाद लौटना पड़ा।

देश की अंतिम चौकी रिमखिम में आईटीबीपी के जवान नियमित गश्त कर रहे थे, तभी करीब दो सौ चीनी सैनिक नो मेंस लेंड बाड़ाहोती में घुस आए। बताया जा रहा है कि उन्होंने चरवाहों को धमकाया। यह घटना देश की अंतिम चौकी रिमखिम के पास घटी। सरकारी सूत्रों ने बाड़ाहोती की घटना पर कहा कि घुसपैठ की बात बिल्कुल गलत है। पहले भी इस तरह की घटनाएं होती रही हैं, लेकिन स्थानीय स्तर पर ही सुलझा लिया गया। सीमा रेखा स्पष्ट न होने से यह स्थिति सामने आती है।