कुर्सी पर बैठने पर दलित युवक की पीट-पीट कर हत्या, पांच आरोपी गिरफ्तार

a.jpeg

देहरादून। उत्तराखण्ड के टिहरी में ऊंची जाति के लोगों के साथ कुर्सी पर बैठकर खाना खाना एक युवक की मौत का सबब बन गया। आरोप है कि ऊंची जाति के दबंग युवकों ने मिलकर दलित युवक को इतनी बेहरमी से पीटा कि वह बुरी तरह घायल हो गया और इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। अब इस मामले में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

Uttarakhand Murder Of Dalit Man For Eating Food While Sitting On The Chair 5 Arrested :

घटना 26 अप्रैल की है जब श्रीकोट क्षेत्र नैनबाग इलाके में जितेंद्र को कुर्सी पर बैठने के कारण पीटा गया। अगले दिन जितेंद्र की तबियत बिगड़ गईए जिसके बाद उसे देहरादून में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां चार मई को उसकी मौत हो गई टिहरी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत ने कहा कि दलित युवक की हत्या के संबंध में हमने अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस अधीक्षक योगेंद्र सिंह रावत ने कहा कि पुलिस को हालांकि अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं मिली है। जिला प्रशासन से दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन मिलने से बाद जितेंद्र के परिजनों ने सोमवार शाम उसका अंतिम संस्कार कर दिया। उत्तराखंड के टिहरी में दलित समुदाय के युवक के साथ मारपीट के बाद उसकी मौत से बसपा कार्यकर्ताओं में खासा रोष बना हुआ है।

जिसके चलते काशीपुर में बसपा कार्यकर्ताओं ने महामहिम राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी कार्यालय में सौंपा और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग की है। बहुजन समाज पार्टी की भाईचारा कमेटी के अध्यक्ष एमए राहुल के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी कार्यालय में सौंपा। मए राहुल ने कहा कि उत्तराखंड में प्रतिदिन ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं जो सामाजिक दृष्टिकोण से सही नहीं है। उन्होंने कहा कि जल्द ही इन पर रोक नहीं लगी तो बहुजन समाज पार्टी द्वारा आंदोलन किया जाएगा।

देहरादून। उत्तराखण्ड के टिहरी में ऊंची जाति के लोगों के साथ कुर्सी पर बैठकर खाना खाना एक युवक की मौत का सबब बन गया। आरोप है कि ऊंची जाति के दबंग युवकों ने मिलकर दलित युवक को इतनी बेहरमी से पीटा कि वह बुरी तरह घायल हो गया और इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। अब इस मामले में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना 26 अप्रैल की है जब श्रीकोट क्षेत्र नैनबाग इलाके में जितेंद्र को कुर्सी पर बैठने के कारण पीटा गया। अगले दिन जितेंद्र की तबियत बिगड़ गईए जिसके बाद उसे देहरादून में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां चार मई को उसकी मौत हो गई टिहरी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसएसपी योगेंद्र सिंह रावत ने कहा कि दलित युवक की हत्या के संबंध में हमने अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक योगेंद्र सिंह रावत ने कहा कि पुलिस को हालांकि अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं मिली है। जिला प्रशासन से दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन मिलने से बाद जितेंद्र के परिजनों ने सोमवार शाम उसका अंतिम संस्कार कर दिया। उत्तराखंड के टिहरी में दलित समुदाय के युवक के साथ मारपीट के बाद उसकी मौत से बसपा कार्यकर्ताओं में खासा रोष बना हुआ है। जिसके चलते काशीपुर में बसपा कार्यकर्ताओं ने महामहिम राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी कार्यालय में सौंपा और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग की है। बहुजन समाज पार्टी की भाईचारा कमेटी के अध्यक्ष एमए राहुल के नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी कार्यालय में सौंपा। मए राहुल ने कहा कि उत्तराखंड में प्रतिदिन ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं जो सामाजिक दृष्टिकोण से सही नहीं है। उन्होंने कहा कि जल्द ही इन पर रोक नहीं लगी तो बहुजन समाज पार्टी द्वारा आंदोलन किया जाएगा।