1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. VIDEO : गुलदार ने घात लगाकर महिलाओं पर किया हमला, देंखे मां को बेटे ने कैसे बचाया?

VIDEO : गुलदार ने घात लगाकर महिलाओं पर किया हमला, देंखे मां को बेटे ने कैसे बचाया?

उत्तराखंड (Uttarakhand) के द्वाराहाट (Darahat) में भौंरा गांव में गुलदार (Guldar) ने एक साथ दो महिलाओं और एक युवक पर हमला कर दिया है। इनमें मां को बचाने के लिए गुलदार (Guldar)  का सामना करने वाला एक युवक भी शामिल है। गुलदार (Guldar) के हमले में दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद रानीखेत रेफर (Ranikhet Refar) कर दिया। इस घटना से पूरे गांव में दहशत का माहौल है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। उत्तराखंड (Uttarakhand) के द्वाराहाट (Darahat) में भौंरा गांव में गुलदार (Guldar) ने एक साथ दो महिलाओं और एक युवक पर हमला कर दिया है। इनमें मां को बचाने के लिए गुलदार (Guldar)  का सामना करने वाला एक युवक भी शामिल है। गुलदार (Guldar) के हमले में दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें प्राथमिक उपचार के बाद रानीखेत रेफर (Ranikhet Refar) कर दिया। इस घटना से पूरे गांव में दहशत का माहौल है।

पढ़ें :- अमृत उद्यान का उद्घाटन देश की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू कल 29 जनवरी को करेंगी

घटना द्वाराहाट नगर (Darahat Nagar) से तीन किमी दूर भौरा गांव की है। शाम के समय गांव की बचुली देवी और पुष्पा देवी घर के आंगन के पास ही घरेलू काम कर रही थी अचानक घात लगाए गुलदार ने दोनों पर हमला कर दिया। गुलदार (Guldar) एक महिला को घायल कर घसीटकर ले जाने लगा था। इस दौरान बीच बचाव में आई दूसरी महिला पर भी गुलदार (Guldar)  ने हमला कर दिया।

बाहर आवाज आने पर घर के अंदर से पुष्पा देवी का बेटा सुमित भी बीच-बचाव में कूद पड़ा। मां समेत दो महिलाओं पर हमला कर होते देख गुलदार से भिड़े सुमित भी घायल हो गया। हमले में सुमित समेत तीनों लोग लहुलूहान हो गए। शोर मचने पर गुलदार (Guldar)   गांव से भाग गया। ग्रामीणों की मदद से तीनों घायलों को स्थानीय अस्पताल पहुंचाया गया। घायल बचुली देवी और सुमित को प्राथमिक उपचार के बाद डॉक्टरों ने रानीखेत रेफर कर दिया।

ग्रामीण कर रहे हैं पिंजरा लगाने की मांग

ग्रामीणों ने बताया कि बीते तीन-चार माह से क्षेत्र में गुलदारों का आतंक (Terror of Guldars) मचा हुआ है। वह लोग लंबे समय से क्षेत्र में पिंजरा लगाने की मांग उठा रहे थे। ग्रामीणों का आरोप है कि वन विभाग की अनदेखी के कारण आज ये घटना घटी है। ग्रामीणों ने इस घटना के लिए वन विभाग को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने जल्द से जल्द गांव में पिंजरा लगाने की मांग उठाई है।

पढ़ें :- अखिलेश बोले- बीजेपी हम सबको शूद्र मानती है, सत्ताधारी दल के गुंडों ने किया हमला, अब समझ में आया NSG क्यों हटाई

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...