उत्तराखंड: शिक्षामंत्री के बेटे की शादी के कार्ड बांटने को जारी हुआ शासनादेश

देहरादून। उत्तराखंड में इन दिनों एक शादी का कार्ड काफी चर्चा का विषय बना हुआ है। इस कार्ड के चक्कर में दो अफसरों को भी सस्पेंड कर दिया गया। दरअसल, शिक्षामंत्री अरविंद पांडे के बेटे की शादी के कार्ड बंटवाने के लिए विभाग ने बकायदा एक पत्र जारी कर अधिकारियों और शिक्षकों को ड्यूटी पर लगाया था।

मामला मंत्री के बेटे की शादी से जुड़ा होने के चलते शिक्षा विभाग ने कार्ड बंटवाने के लिए बकायदा एक शासनादेश जारी किया था। मामला सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के संज्ञान में आने के बाद सरकारी महकमे में हड़कंप मच गया और सीएम आॅफिस के हस्तक्षेप के बाद जिम्मेदार दोनों अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया गया।
शिक्षामंत्री अरविंद पांडे के बेटे की शादी होने वाली है। इसके लिए मेहमानों को कार्ड बांटने की जिम्मेदारी अधिकारियों को भी दी गई थी। मंत्रीजी को खुश करने के चक्कर में दो प्रशासनिक अधिकारियों ने कुछ ऐसा कर दिया कि सरकार को शर्मिंदगी झेलनी पड़ रही है। दो मुख्य प्रशासनिक अधिकारियों ने प्रिंसिपलों को यह जिम्मेदारी देने के लिए सरकारी आदेश यानि जीओ जारी कर दिया।

{ यह भी पढ़ें:- दिल्ली-NCR समेत उत्तराखंड में भूकंप के तेज झटके }

बागेश्वर के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी फकीरराम आर्य और कपकोट बीईओ के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी दरबान सिंह टिकुली ने जीओ जारी कर सभी प्रिंसिपलों को तलब कर लिया ताकि कार्ड बांटने की जिम्मेदारी को बेहतर ढंग से समझाया जा सके। मामले का संज्ञान सीएम तक आते ही कार्रवाई शुरू हुई और आनन-फानन मे दोनों अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया गया।

मुख्यमंत्री कार्यालय को नाराज देख सचिव ने शिक्षा निदेशक को कार्रवाई के लिए कहा। शिक्षा निदेशक आरके कुंवर ने भी तत्काल ही दोनों के निलंबन आदेश जारी कर दिए।

{ यह भी पढ़ें:- केदारनाथ धाम पहुंचे PM मोदी, बोले- सवा सौ करोड़ जनता की सेवा ही बाबा केदार की सेवा }

Loading...