लांचिंग के दूसरे दिन ही रूक गए वंदे भारत एक्सप्रेस के पहिए, इंजन में आई खराबी

Vande-Bharat-express
लांचिंग के दूसरे दिन ही रूक गए वंदे भारत एक्सप्रेस के पहिए, इंजन में आई खराबी

नई दिल्ली। भारत देश भी अब टेक्नोलॉजी में अपने कदम आगे बड़ा रहा है। तो वहीं भारत ने पहली बिना इंजन वाली सबसे तेज गति की ट्रेन वंदे भारत एक्सप्रेस का उद्घाटन गुरुवार को किया और उसके अगले ही दिन ट्रेन में कुछ तकनीकि खराबी आ गई।

Vande Bharat Express Fastest Train Of India Breaks Down :

मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार वंदे भारत एक्सप्रेस के इंजन में तकनीकी खराबी आने के कारण ट्रेन सुबह 8 बजकर 55 मिनट से हाथरस जंक्शन स्टेशन पर खड़ी है। कल ट्रेन दिल्ली से वाराणसी रवाना हुई थी और आज वह वाराणसी से दिल्ली लौट रही थी कि दिल्ली से 200 किलोमीटर पहले ही ट्रेन खराब हो गई। वंदे भारत एक्सप्रेस एक सेमी हाई स्पीड ट्रेन है।

वंदे भारत एक्सप्रेस’ के पीछे के कुछ डिब्बों के ब्रेक अचानक जाम हो गए और अंतिम चार बोगियों में बिजली गुल हो गई। ट्रेन के पिछले हिस्से में धुआं भी निकल रहा था। यही नहीं ट्रेन में मौजूद इंजीनियरों ने वरिष्ठ अधिकारियों को बताया कि ट्रेन के कंट्रोल्स भी फेल हो गए। खराबी का आगाज होते ही लोको पायलट ने ट्रेन रोकी। इस ट्रेन में मौजूद पत्रकारों सहित तमाम यात्रियों को दो अन्य ट्रेन के जरिए शनिवार सुबह सवा आठ बजे विक्रमशिला एक्सप्रेस से नई दिल्ली के लिए रवाना किया गया।
उस वक्त तक यह अनुमान लगाया गया कि ट्रेन 2.5 घंटे में दिल्ली पहुंच जाएगी। ट्रेन में सवार इंजीनियर कोच के अंदर और बाहर टॉर्च से जांच करते रहे। हलाकि ब्रेक जाम होने जैसी तकनीकी समस्या रेलवे में सामने आती रहती हैं। इंजीनियरों की वार्ता लाप के मुताबिक पार्किंग ब्रेक, होल्डिंग ब्रेक जाम के साथ ही चार्जिंग फेलियर दिक्कत आई।

जैसे ही जाम ब्रेक रिलीज हुआ और ट्रेन को 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाने का निर्णय लिया गया लेकिन उसके बाद भी दिक्कतें बनी रहीं जिसके चलते अधिकारियों ने इसे 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाने का फैसला हुआ।

नई दिल्ली। भारत देश भी अब टेक्नोलॉजी में अपने कदम आगे बड़ा रहा है। तो वहीं भारत ने पहली बिना इंजन वाली सबसे तेज गति की ट्रेन वंदे भारत एक्सप्रेस का उद्घाटन गुरुवार को किया और उसके अगले ही दिन ट्रेन में कुछ तकनीकि खराबी आ गई।मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार वंदे भारत एक्सप्रेस के इंजन में तकनीकी खराबी आने के कारण ट्रेन सुबह 8 बजकर 55 मिनट से हाथरस जंक्शन स्टेशन पर खड़ी है। कल ट्रेन दिल्ली से वाराणसी रवाना हुई थी और आज वह वाराणसी से दिल्ली लौट रही थी कि दिल्ली से 200 किलोमीटर पहले ही ट्रेन खराब हो गई। वंदे भारत एक्सप्रेस एक सेमी हाई स्पीड ट्रेन है।वंदे भारत एक्सप्रेस' के पीछे के कुछ डिब्बों के ब्रेक अचानक जाम हो गए और अंतिम चार बोगियों में बिजली गुल हो गई। ट्रेन के पिछले हिस्से में धुआं भी निकल रहा था। यही नहीं ट्रेन में मौजूद इंजीनियरों ने वरिष्ठ अधिकारियों को बताया कि ट्रेन के कंट्रोल्स भी फेल हो गए। खराबी का आगाज होते ही लोको पायलट ने ट्रेन रोकी। इस ट्रेन में मौजूद पत्रकारों सहित तमाम यात्रियों को दो अन्य ट्रेन के जरिए शनिवार सुबह सवा आठ बजे विक्रमशिला एक्सप्रेस से नई दिल्ली के लिए रवाना किया गया। उस वक्त तक यह अनुमान लगाया गया कि ट्रेन 2.5 घंटे में दिल्ली पहुंच जाएगी। ट्रेन में सवार इंजीनियर कोच के अंदर और बाहर टॉर्च से जांच करते रहे। हलाकि ब्रेक जाम होने जैसी तकनीकी समस्या रेलवे में सामने आती रहती हैं। इंजीनियरों की वार्ता लाप के मुताबिक पार्किंग ब्रेक, होल्डिंग ब्रेक जाम के साथ ही चार्जिंग फेलियर दिक्कत आई।जैसे ही जाम ब्रेक रिलीज हुआ और ट्रेन को 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाने का निर्णय लिया गया लेकिन उसके बाद भी दिक्कतें बनी रहीं जिसके चलते अधिकारियों ने इसे 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाने का फैसला हुआ।