IPL Auction: आर्किटेक्चर से क्रिकेटर बने वरुण चक्रवर्ती पर 42 गुना अधिक लगी बोली

IPL
IPL Auction: आर्किटेक्चर से क्रिकेटर बने वरुण चक्रवर्ती पर 42 गुना अधिक लगी बोली

मुंबई। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 12वें सीजन के लिए बोली में एक ऐसे खिलाड़ी पर जमकर धन वर्षा हुई, जिसकी शायद ही किसी को उम्मीद रही होगी। आईपीएल नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब द्वारा बेस प्राइस से 42 गुना अधिक 8 करोड़ 40 लाख रुपये में खरीदे जाने के बाद अपनी गेंदबाजी में 7 वैरिएशन रखने वाले तमिलनाडु के रहस्यमयी स्पिनर वरुण चक्रवर्ती के पैर जमीन पर नहीं पड़ रहे हैं। चेन्नै के इस अनजान खिलाड़ी का बेसप्राइज 20 लाख रुपये था। उधर, तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट पर भी 8.40 करोड़ रुपये की बोली लगी। उन पर राजस्थान रॉयल्स ने दांव खेला है।

Varun Chakravarthy Mystery Spinner Tamil Nadu Ipl Auction 2019 8 Crores 40 By Kxip Punjab :

नीलामी के नतीजे के बाद वरुण ने कहा, ‘मैं सातवें आसमान पर हूं। कभी यह सोचा भी नहीं था। मुझे लगा था कि कोई बेसप्राइज पर खरीद लेगा।’ उन्होंने कहा, ‘मेरे लिये यह बड़ा मौका है। मैं शब्दों में अपनी खुशी बयान नहीं कर सकता। मैने आर अश्विन जैसे खिलाड़ियों से बहुत कुछ सीखा है जो किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान हैं। मैं अंतरराष्ट्रीय सितारों से काफी कुछ सीख सकता हूं ताकि बेहतर क्रिकेटर बन सकूं।’

कौन हैं वरुण चक्रवर्ती और क्यों बिके इतने महंगे

वरुण चक्रवर्ती इंटरनैशनल लेवल पर भले ही अंजान खिलाड़ी हैं, लेकिन घरेलू क्रिकेट में अपनी टीम तमिलनाडु के लिए कई बार चमत्कारिक प्रदर्शन किया है। तमिलनाडु प्रीमियर लीग (TNPL) के दौरान उनका नाम पहली बार सामने आया था। इस टूर्नमेंट में उन्होंने तमिलनाडु के कई टॉप बल्लेबाजों को आउट किया। TNPL के बाद विजय हजारे ट्रोफी में इस मिस्ट्री गेंदबाज को मौका मिला। यहां सिर्फ 9 मैचों में 22 विकेट लेकर सनसनी मचा दी थी। ग्रुप स्टेज पर वह सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे।

कौन हैं वरुण चक्रवर्ती और क्यों बिके इतने महंगे

वरुण चक्रवर्ती इंटरनैशनल लेवल पर भले ही अंजान खिलाड़ी हैं, लेकिन घरेलू क्रिकेट में अपनी टीम तमिलनाडु के लिए कई बार चमत्कारिक प्रदर्शन किया है। तमिलनाडु प्रीमियर लीग (TNPL) के दौरान उनका नाम पहली बार सामने आया था। इस टूर्नमेंट में उन्होंने तमिलनाडु के कई टॉप बल्लेबाजों को आउट किया। TNPL के बाद विजय हजारे ट्रोफी में इस मिस्ट्री गेंदबाज को मौका मिला। यहां सिर्फ 9 मैचों में 22 विकेट लेकर सनसनी मचा दी थी। ग्रुप स्टेज पर वह सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे।

मुंबई। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 12वें सीजन के लिए बोली में एक ऐसे खिलाड़ी पर जमकर धन वर्षा हुई, जिसकी शायद ही किसी को उम्मीद रही होगी। आईपीएल नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब द्वारा बेस प्राइस से 42 गुना अधिक 8 करोड़ 40 लाख रुपये में खरीदे जाने के बाद अपनी गेंदबाजी में 7 वैरिएशन रखने वाले तमिलनाडु के रहस्यमयी स्पिनर वरुण चक्रवर्ती के पैर जमीन पर नहीं पड़ रहे हैं। चेन्नै के इस अनजान खिलाड़ी का बेसप्राइज 20 लाख रुपये था। उधर, तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट पर भी 8.40 करोड़ रुपये की बोली लगी। उन पर राजस्थान रॉयल्स ने दांव खेला है। नीलामी के नतीजे के बाद वरुण ने कहा, ‘मैं सातवें आसमान पर हूं। कभी यह सोचा भी नहीं था। मुझे लगा था कि कोई बेसप्राइज पर खरीद लेगा।’ उन्होंने कहा, ‘मेरे लिये यह बड़ा मौका है। मैं शब्दों में अपनी खुशी बयान नहीं कर सकता। मैने आर अश्विन जैसे खिलाड़ियों से बहुत कुछ सीखा है जो किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान हैं। मैं अंतरराष्ट्रीय सितारों से काफी कुछ सीख सकता हूं ताकि बेहतर क्रिकेटर बन सकूं।’

कौन हैं वरुण चक्रवर्ती और क्यों बिके इतने महंगे

वरुण चक्रवर्ती इंटरनैशनल लेवल पर भले ही अंजान खिलाड़ी हैं, लेकिन घरेलू क्रिकेट में अपनी टीम तमिलनाडु के लिए कई बार चमत्कारिक प्रदर्शन किया है। तमिलनाडु प्रीमियर लीग (TNPL) के दौरान उनका नाम पहली बार सामने आया था। इस टूर्नमेंट में उन्होंने तमिलनाडु के कई टॉप बल्लेबाजों को आउट किया। TNPL के बाद विजय हजारे ट्रोफी में इस मिस्ट्री गेंदबाज को मौका मिला। यहां सिर्फ 9 मैचों में 22 विकेट लेकर सनसनी मचा दी थी। ग्रुप स्टेज पर वह सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे।

कौन हैं वरुण चक्रवर्ती और क्यों बिके इतने महंगे

वरुण चक्रवर्ती इंटरनैशनल लेवल पर भले ही अंजान खिलाड़ी हैं, लेकिन घरेलू क्रिकेट में अपनी टीम तमिलनाडु के लिए कई बार चमत्कारिक प्रदर्शन किया है। तमिलनाडु प्रीमियर लीग (TNPL) के दौरान उनका नाम पहली बार सामने आया था। इस टूर्नमेंट में उन्होंने तमिलनाडु के कई टॉप बल्लेबाजों को आउट किया। TNPL के बाद विजय हजारे ट्रोफी में इस मिस्ट्री गेंदबाज को मौका मिला। यहां सिर्फ 9 मैचों में 22 विकेट लेकर सनसनी मचा दी थी। ग्रुप स्टेज पर वह सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे।