1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Varun Gandhi ने इशारों-इशारों में Modi Government को फिर चेताया, Atal Bihari Vajpayee का वीडियो शेयर कर दिया बड़ा संदेश

Varun Gandhi ने इशारों-इशारों में Modi Government को फिर चेताया, Atal Bihari Vajpayee का वीडियो शेयर कर दिया बड़ा संदेश

पीलीभीत (Pilibhit) से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi ) ने कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों का एक बार फिर गुरुवार को समर्थन किया है। उन्होंने किसानों के समर्थन में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) का एक वीडियो अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया है। इसके साथ ही उन्होंने इशारों-इशारों में किसानों के आंदोलन का दमन कर रही मोदी सरकार (Modi government) को बड़ा स्पष्ट संदेश दिया है। इस वीडियो के माध्यम से वरुण गांधी (Varun Gandhi ) ने यह कहने का प्रयास किया है कि ऐसे में वे अपने फर्ज को ध्यान में रखते हुए किसानों के साथ खड़े हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। पीलीभीत (Pilibhit) से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi ) ने कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों का एक बार फिर गुरुवार को समर्थन किया है। उन्होंने किसानों के समर्थन में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) का एक वीडियो अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर पोस्ट किया है। इसके साथ ही उन्होंने इशारों-इशारों में किसानों के आंदोलन का दमन कर रही मोदी सरकार (Modi government) को बड़ा स्पष्ट संदेश दिया है। इस वीडियो के माध्यम से वरुण गांधी (Varun Gandhi ) ने यह कहने का प्रयास किया है कि ऐसे में वे अपने फर्ज को ध्यान में रखते हुए किसानों के साथ खड़े हैं।

पढ़ें :- फसल जलाते किसान का वीडियो वरुण गांधी ने किया शेयर, कहा-इस व्यवस्था ने किसानों को कहां लाकर खड़ा कर दिया है?

पीलीभीत (Pilibhit) से बीजेपी सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi ) ने गुरुवार को पोस्ट 41 सेकेंड के वीडियो के साथ उन्होंने कैप्शन लिखा, एक बड़े दिल के नेता द्वारा कही गई बुद्धिमानी की बात। वीडियो तब का है जब अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee)  विपक्ष में थे।

पढ़ें :- वरुण गांधी ने Yogi Government को घेरा बोले- आम आदमी को जब उसके हाल पर छोड़ दिया तो फिर सरकार का क्या मतलब?

इस वीडियो में अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee)  किसी जनसभा में सरकार को चेतावनी देते हुए कहते हैं कि मैं इन किसानों को डराने वाली सरकार को चेतावनी देना चाहता हूं। हमें डराने की कोशिश न करो। ये किसान डरने वाले नहीं हैं। हम किसानों के आंदोलन का उपयोग राजनीति के लिए नहीं करना चाहते हैं। हम उनकी जायज मांगों का समर्थन करते हैं। और अगर सरकार हमें डराने की कोशिश करती है, कानून का दुरुपयोग करती है या किसानों के शांतिपूर्ण आंदोलन की उपेक्षा करती है तो हम भी उनके समर्थन में उनके आंदोलन में शामिल हो जाएंगे।
वरुण और भाजपा में जारी है रस्साकशी

वरुण गांधी और भाजपा (BJP) में इशारों-इशारों में रस्साकशी चल रही है। वरुण गांधी (Varun Gandhi ) लगातार किसानों के हक में आवाज बुलंद करते रहे हैं। चाहे गन्ना के समर्थन मूल्य (Sugarcane Support Price) को बढ़ाने की बात हो या किसानों के आंदोलन को आगे बढ़ाने की, वे आगे बढ़कर लगातार किसानों का समर्थन कर रहे हैं। लखीमपुर खीरी हिंसा (Lakhimpur Kheri violence) के बाद भी उन्होंने ट्विटर पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा था कि हिंसा के इन आरोपियों को तत्काल सजा मिलनी चाहिए।

बदल सकते हैं परिणाम

माना जा रहा है कि भाजपा (BJP)  पार्टी लाइन के खिलाफ जाकर बयानबाजी करने के कारण उन्हें भाजपा (BJP)  की राष्ट्रीय कार्यकारिणी कमेटी (National Executive Committee) से भी हटा दिया गया। चर्चा तो इस बात तक की भी हो चुकी है कि वरुण गांधी (Varun Gandhi ) और मेनका गांधी (Maneka Gandhi) भाजपा छोड़ सकते हैं। हालांकि, भाजपा और वरुण गांधी दोनों ने ही इस बात को बेबुनियाद अफवाह बताते हुए खारिज कर दिया है, लेकिन जानकारों का मानना है कि वरुण गांधी  (Varun Gandhi ), मेनका गांधी (Maneka Gandhi) और भाजपा (BJP) के बीच सब कुछ ठीक-ठाक नहीं है और आने वाले दिनों में इसका कुछ अलग परिणाम दिखाई पड़ सकता है।

पढ़ें :- डबल इंजन की सरकार ने  विकास के डबल डोज से प्रदेश को बदला : Dinesh Sharma
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...