1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Varun Gandhi का पीएम मोदी पर तंज, साहब आंकड़े झूठ नहीं बोलते

Varun Gandhi का पीएम मोदी पर तंज, साहब आंकड़े झूठ नहीं बोलते

यूपी के पीलीभीत जिले से बीजेपी ( BJP) के सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने सोमवार को एक बार फिर ट्विटर पर पार्टी लाइन से हटकर देश में बढ़ती बेरोजगारी दर पर कहा कि आंकड़े झूठ नहीं बोलते। वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने ट्विट कर कहा कि देश की बेरोजगारी दर 7.8 फीसदी, हरियाणा की बेरोजगारी दर 30.6 फीसदी, 19 साल का हर दूसरा युवा बेरोजगार है। प्रदेश में शिक्षकों के 50 हजार पद खाली है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। यूपी के पीलीभीत जिले से बीजेपी ( BJP) के सांसद वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने सोमवार को एक बार फिर ट्विटर पर पार्टी लाइन से हटकर देश में बढ़ती बेरोजगारी दर पर कहा कि आंकड़े झूठ नहीं बोलते।

पढ़ें :- Shravasti News : राजस्थान के बाद अब यूपी में स्कूल टीचर की हैवानियत, 250 रुपये फीस के लिए छात्र को मार डाला

वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने ट्विट कर कहा कि देश की बेरोजगारी दर 7.8 फीसदी, हरियाणा की बेरोजगारी दर 30.6 फीसदी, 19 साल का हर दूसरा युवा बेरोजगार है। प्रदेश में शिक्षकों के 50 हजार पद खाली है।

अग्निवीर युवा 4 वर्षों के बाद बेरोजगारी के इन्हीं आंकड़ों का हिस्सा बन जाएंगे। वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने कहा कि युवा बेरोजगारी के आंकड़ें या देश का भविष्य? सुप्रीम कोर्ट के वकील एम एल शर्मा के तरफ से अग्निपथ योजना के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) राजी हो गया है। इस मामले में सुनवाई अब अगले सप्ताह होगी।

कोर्ट दायर याचिका में कहा गया है कि दो साल से वायुसेना में नियुक्ति का इंतजार कर रहे लोगों को आशंका है कि उनका 20 साल का करियर चार साल में सिमट जाएगा। इस याचिका में आगे कहा गया है कि साल 2017 में 70 हजार से अधिक छात्रों को ट्रेनिंग दी गई। ट्रेनिंग के बाद छात्रों को आश्वासन दिया गया कि नियुक्ति पत्र राजी किया जाएगा, लेकिन अब इस योजना के लाए जाने के बाद से इनका करियर दांव पर है।

पढ़ें :- बीजेपी में नहीं होता कोई चुनाव, अब पार्टी में हर पद पर लोग नरेंद्र मोदी की मंजूरी से होते हैं नामित : Subramanian Swamy

वहीं वकीलों की दलील सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की बेंच सुनवाई के लिए तैयार हो गई। बेंच ने कहा कि याचिका को अगले सप्ताह सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया गया है।

तीनों सेनाओं में भर्ती प्रक्रिया जारी

बता दें कि तीनों सेनाओं में भर्ती प्रक्रिया जारी है। थलसेना में भर्ती प्रक्रिया जहां 1 जुलाई से शुरू हो गई। वहीं वायुसेना में इससे पहले 24 जून जबकि नौसेना में 25 जून से शुरू हो गई। इस भर्ती में 17.5 वर्ष से 21 वर्ष तक के उम्मीदवार शामिल हो सकेंगे। हालांकि, इस साल के लिए आयु सीमा बढ़ाकर 23 साल कर दी गई है। यह भर्ती चार सालों के लिए होगी। इसके बाद परफॉर्मेंस के आधार पर 25 फीसदी कर्मियों को वापस से रेगुलर कैडर के लिए नामांकित किया जाएगा।

बता दें कि उम्मीदवारों को सशस्त्र बलों में आगे नामांकन के लिए चुने जाने का कोई अधिकार नहीं होगा। चयन सरकार का अनन्य क्षेत्राधिकार होगा। मेडिकल ट्रेडमैन को छोड़कर भारतीय वायु सेना के नियमित कैडर में एयरमैन के रूप में नामांकन केवल उन्हीं कर्मियों को दिया जाएगा, जिन्होंने अग्निवीर (Agniveer) के रूप में अपनी सेवा की अवधि पूरी कर ली है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...