अखिलेश सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट वरुणा कॉरिडोर में हुई धांधली, चीफ इंजीनियर सुरेश शर्मा निलंबित

लखनऊ। अखिलेश सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट वरुणा कॉरिडोर में हुई धांधली को गंभीरता से लेते हुए सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने वाराणसी के सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता सुरेश चंद्र शर्मा को निलंबित कर दिया है। प्रमुख सचिव सिंचाई सुरेश चंद्रा के आदेश के अनुसार इस पूरे प्रोजेक्ट में लापरवाही बरतने और कई बार निर्देश के बाद प्रस्ताव बनाकर ना देने की वजह से सुरेश चन्द्र शर्मा को निलंबित कर दिया गया है।

प्रमुख सचिव सिंचाई सुरेश चंद्रा ने बताया कि सीएम योगी की प्राथमिकताओं में शामिल वाराणसी की वरुणा नदी के चैनलाइजेशन व तटीय विकास परियोजना के संबंध में दिए गए निर्देशों के बावजूद समस्याओं का निराकरण नहीं किया गया। परियोजना को 31 मार्च 2018 तक पूरा किया जाना है।

{ यह भी पढ़ें:- एक घंटे तक नहीं पहुंची 108 एंबुलेंस, ई रिक्शे पर जन्म लेते ही चोटिल हुआ नवजात }

प्रमुख सचिव के मुताबिक, 201 करोड़ रुपये की योजना में 70 फीसदी काम हुआ है। डीएम बंगले के पीछे 1 से लेकर 11.3 किमी सरायमोहाना तक चैनलाइजेशन काम सिंचाई विभाग ने शुरू कराया है।

सूत्रों की मानें तो इस मामले में कई और अधिकारियों पर गाज गिरनी तय है। उन्हें चिह्ति कर लिया है। जिस समय यह योजना शुरू हुई थी उस समय ओम प्रकाश श्रीवास्तव मुख्य अभियंता सोन के पद पर रहे।

{ यह भी पढ़ें:- केजीएमयू चाइल्ड वार्ड में हंगामा, बेटे की मृत्यु की आशंका पर डॉक्टरों से भिड़ा पिता }

Loading...