Delhi Murder Case: लव सेक्स और धोखे की अनोखी मर्डर मिस्ट्री, पढ़कर रह जाएंगे हैरान

नईदिल्ली। राष्ट्रीय  राजधानी दिल्ली के मुनिरका इलाके में पिछले महीने में 2 लडकियां  सोनम और न्यासा की बेरहमी से हत्या हुई थी। मौके पर पहुंची पुलिस को लडकियों के सिर धड़ से पड़े हुए मिले थे। पुलिस ने  हत्या के पीछे लव सेक्स और धोखा की आशंका जताई थी। इस वारदात को अंजाम देने वाले 2 लोगों को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है। हालांकि इस घटना को अंजाम देने वाला मुख्य आरोपी अभी भी फरार है। दिल्ली पुलिस का मानना है कि यह कोई सीरियल किलिंग नही, बल्कि इसके पीछे एक बड़ी साजिश है। जिसमे 4 लोग सम्मिलित हैं। आरोपियों में अर्जुन,जीवन, मिनी संगमा उर्फ नेहा और गोविन्द शामिल थे।




दिल्ली पुलिस के ज्वाइंट सीपी आरपी उपाध्याय ने मीडिया को दिए बयान में बताया कि दोनों लडकियों की हत्याओं को कपल समेत चार लोगों ने अंजाम दिया। दोनों हत्याओं के पीछे मुख्य आरोपी अर्जुन है। उसने गर्लफ्रेंड मिनी संगमा, दोस्त गोविंद और अपने कुक जीवन के साथ मिलकर दोनों के मर्डर करने की साजिश रची थी।




बोरों में बंद मिली थी सिर कटी लाशें—

पिछले 18 और 25 नवंबर को वसंत विहार और मुनिरका में अगल-अलग बोरों में बंद सिर कटी लाशें मिलीं थीं। शव काफी हद तक क्षत-विक्षत थे। जिसकी वजह से उनकी शिनाख्त नही हो पा रही थी, लेकिन पुलिस ने उनकी पहचान कर ली है जिनके नाम सोनम और न्यासा हैं। पुलिस का दावा है कि  दोनों लडकियां अच्छी दोस्त थी और दिल्ली के ही एक स्पा में काम करती थीं।




मुख्य आरोपी अर्जुन ने दिलाया था मुनिरका में घर–

पुलिस के मुताबिक, अर्जुन ने ही सोनम और न्यासा को रहने के लिए मुनिरका में घर दिलवाया था। इसके बाद सोनम और अर्जुन के बीच नजदीकियां बढ़ने लगीं। एक दिन दोनों ने मंदिर में जाकर शादी कर ली और साथ रहने लगे। पहली गर्लफ्रेंड मिनी संगमा उर्फ नेहा को जब इसकी भनक लगी तो वह अर्जुन को ब्लैकमेल करने लगी। जिसकी वजह से अर्जुन से उसका झगड़ा भी होने लगा। अर्जुन एक बार फिर अपनी पुरानी गर्लफ्रेंड नेहा की ओर आकर्षित होने लगा और सोनम को रास्ते से हटाने की प्लानिंग शुरू कर दी।




पूरी प्लानिंग के बाद किया मर्डर—

ब्रीफिंग के दौरान पुलिस ने बताया कि  नेहा ने अर्जुन से साफ कह दिया कि उसे सोनम या मिनी में से किसी एक चुनना होगा। जिसके बाद अर्जुन ने मिनी, दोस्त गोविंद और कुक जीवन के साथ मिलकर हत्या का प्लान बनाया। प्लान के मुताबिक, 17 नवंबर की रात अर्जुन ने सोनम को अपने कमरे में बुलाया और फिर चारों ने मिलकर उसका मर्डर कर दिया। सोनम के सिर को लेकर अर्जुन और गोविंद चले गए। बॉडी को दो हिस्सों में काटकर जीवन और मिनी ने गटर में फेंक दिया।




इसके बाद अगले दिन रात को जब सोनम की सहेली न्यासा ने अर्जुन से सोनम के बारे में पूछा तो उसने कहा कि वो काम से बाहर गई है। सभी आरोपियों को डर था कि अगर न्यासा जिंदा रही तो वह फंस सकते है। जिसके बाद अगले दिन 18 नवंबर की रात सबने मिलकर न्यासा का भी मर्डर कर दिया।




दिल्ली पुलिस ने आरोपी कुक जीवन और नेहा को गिरफ्तार कर लिया लेकिन हत्या के मुख्य आरोपी अर्जुन और गोविंद अभी भी फरार है। पुलिस को आशंका है कि वो दोनों नेपाल स्थित अपने घर जाने की फिराक में है।