1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. वास्तु टिप्स: जानिए शुभ फल के लिए देवताओं को घी या तेल का दीपक जलाना चाहिए या नहीं

वास्तु टिप्स: जानिए शुभ फल के लिए देवताओं को घी या तेल का दीपक जलाना चाहिए या नहीं

वास्तु टिप्स: देवताओं के लिए घी और तिल के तेल से दोनों दीपक जलाए जाते हैं। आइए जानते हैं इनका प्रतीकवाद और भी बहुत कुछ

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

आइए आज वास्तु शास्त्र में नवरात्रि के दौरान दीपक जलाने के महत्व पर चर्चा करते हैं। अगर हमें तेल या घी में दीपक जलाना चाहिए और दीपक का स्थान क्या होना चाहिए।

पढ़ें :- Swapna Shastra : सपने में किसी महिला से बात करना शुभ संकेत माना जाता है, जानिए इसका क्या अर्थ है

देवताओं के लिए घी और तिल के तेल सहित दोनों प्रकार के दीपक जलाए जाते हैं। घी का दीपक देवता की दायीं ओर अर्थात् बायें हाथ में तथा तिल के तेल का दीपक देवता की बायीं ओर अर्थात् दाहिने हाथ में होना चाहिए।

vastu tips : नवरात्रि में दीपक को रखे इस दिशा में, जानिए घी का दीपक जलाएं या तेल का - पर्दाफाश

घी के दीपक में सफेद खड़ी रोशनी का प्रयोग करना चाहिए, जबकि तिल के तेल में लाल और लाल बत्ती का प्रयोग करना चाहिए।

घी का दीपक देवता को समर्पित है जबकि तिल के तेल का दीपक आपकी मनोकामनाओं की पूर्ति का प्रतीक है। आप आवश्यकतानुसार एक या दोनों दीपक जला सकते हैं। यह घर के वास्तु के अग्नि तत्व को मजबूत करता है।

पढ़ें :- Dhaniya Ke Upay : धनिया नहीं होने देगी आपकी जेब खाली, इस उपाय से अटके काम पूरे होने लगते हैं

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...