1. हिन्दी समाचार
  2. चीन के खिलाफ कर रहे बेहद गंभीर जांच, मांग सकते हैं अरबों डालर हर्जाना: डोनाल्‍ड ट्रंप

चीन के खिलाफ कर रहे बेहद गंभीर जांच, मांग सकते हैं अरबों डालर हर्जाना: डोनाल्‍ड ट्रंप

Very Serious Investigation Against China May Demand Billions Of Dollars Damages Donald Trump

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कहना है कि वह कोविड-19 को लेकर चीन के खिलाफ बहुत गंभीर जांच कर रहे हैं। इतना ही नहीं उन्होंने चीन को ये भी चेतावनी दी है कि वो जर्मनी के मुकाबले उनसे ज्यादा हर्जाना वसूलेंगे। बता दें कि जर्मनी ने चीन से 130 बिलियन यूरो की मांग की है। उन्‍होंने कहा कि कोरोना वायरस को पूरी दुनिया में फैलने से पहले चीन इसे चाहता तो रोक सकता था।

पढ़ें :- गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या: राष्ट्रपति ने कहा-सैनिकों की बहादुरी पर हम सभी देशवासियों को गर्व है

ट्रंप की धमकी

ट्रंप ने कहा कि कई ऐसी वजहें हैं जिससे पता चलता है कि चीन इस वायरस को फैलाने के लिए जिम्मेदार है। उन्होंने कहा, ‘चीन से हमलोग खुश नहीं हैं। उनके खिलाफ हमलोग गंभीर जांच कर रहे हैं। इसके बारे में आपको सही वक्त पर सबकुछ पता चल जाएगा। इस वायरस को चीन में ही रोका जा सकता था। लेकिन ऐसा हुआ नहीं और ये पूरी दुनिया में फैल गया। चीन इस मसले पर लगातार झूठ बोल रहा है और वो इससे बचने की कोशिश कर रहा है।’

जर्मनी से ज्यादा हर्जाना देना होगा

ट्रंप ने ये भी कहा है कि जर्मनी अपने हिसाब से जांच कर रहा है, जबकि हमलोग अपने तरीके जांच को आगे बढ़ा रहे हैं। उन्होंने चेतावनी दी है कि वो जर्मनी के मुकाबले ज्यादा हर्जाने की वसूलेंगे।

पढ़ें :- गूगल की Gmail यूर्जस को चेतावनी, शर्तें और नियम ना मानने पर बन्द हो जाएंगी ये सुविधायें

बता दें कि इस खतरनाक वायरस ने चीन में पिछले साल नवंबर में दस्तक दी थी। अब तक इस वायरस से दुनिया भर में 2 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 30 लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हैं। अकेले अमेरिका में 56 हज़ार से लोगों की जान जा चुकी है।

लगातार दे रहे हैं धमकी

इससे पहले पिछले हफ्ते ट्रंप ने कहा था कि अगर वे जानबूझकर इसे फैलाने के जिम्मेदार पाए गए तो इसके नतीजे उसे भुगतने होंगे। उन्होंने कहा, आप जानते हैं 1917 के बाद किसी ने इतने बड़े पैमाने पर लोगों को मरते हुए नहीं देखा। उन्होंने ये भी कहा था कि कोविड-19 के दुनियाभर में फैलने से पहले तक चीन के साथ उनके संबंध बहुत अच्छे थे। लेकिन फिर अचानक इसके बारे में सुना इससे अब काफी फर्क आ गया है।  

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...