VIDEO: चीन में फंसे PAK छात्र बोले, काश हमारे देश की सरकार भी मोदी सरकार जैसी होती

modi
VIDEO: चीन में फंसे PAK छात्र बोले, काश हमारे देश की सरकार भी मोदी सरकार जैसी होती

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के चलते चीन के वुहान से भारतीय छात्रों को भारत सरकार ने एयरलिफ्ट करके वापस भारत लाने का काम शुरू कर दिया है। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसे एक पाकिस्तानी छात्र ने रिकॉर्ड किया है। इस वीडियो में छात्र पाकिस्तान की सरकार को भारत सरकार से सीख लेने की बात कर रहा है।  

Video Pak Students Trapped In China Said I Wish Our Government Was Like Modi Government :

इस वीडियो में एक छात्रा कह रही हैं कि कोरोना वायरस यहां तक पहुंच चुका है लेकिन सरकार सीरियस नहीं दिख रही है। एंबेसी कहती है कि मौत आनी होगी तोचीन में भी आ जाएगी और पाकिस्तान में भी, ये किस तरह की बात है। वहीं एक दूसरे छात्र कह रहे हैं कि जैसे हमारे इंडियन दोस्तों को ले जाया गया, अब उनकी वहां जांच भी होगी। वैसे ही हमें निकाला जाए और जांच के बाद ही घर जाने दिया जाए।

https://www.youtube.com/watch?time_continue=115&v=cFM77cXi2sM&feature=emb_logo    

पाकिस्तान ने शुक्रवार को तत्काल प्रभाव से चीन से आने और जाने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है लेकिन वहां रह रहे अपने लोगों को निकालने के लिए कुछ नहीं किया है। इसको लेकर चीन में रह रहे पाकिस्तानियों में नाराजगी है। बता दें कि भारत ने चीन के वुहान से अपने नागरिकों के निकाल लिया है। शनिवार सुबह ही छात्रों के लेकर फ्लाइट वुहान से दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पहुंची है। फ्लाइट से 324 भारतीय लाए गए।

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सुबह तकरीबन साढ़े सात बजे इस विमान से 324 भारतीयों को वापस लाया गया। वुहान से लौटने वालों में 200 से ज्यादा भारतीय छात्र हैं। वुहान, हुबेई की प्रांतीय राजधानी है। यहां कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा संक्रमण देखा जा रहा है। चीन में अब तक कोरोना वायरस ने 259 लोगों की जान ले ली है और 10,000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के चलते चीन के वुहान से भारतीय छात्रों को भारत सरकार ने एयरलिफ्ट करके वापस भारत लाने का काम शुरू कर दिया है। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसे एक पाकिस्तानी छात्र ने रिकॉर्ड किया है। इस वीडियो में छात्र पाकिस्तान की सरकार को भारत सरकार से सीख लेने की बात कर रहा है।   इस वीडियो में एक छात्रा कह रही हैं कि कोरोना वायरस यहां तक पहुंच चुका है लेकिन सरकार सीरियस नहीं दिख रही है। एंबेसी कहती है कि मौत आनी होगी तोचीन में भी आ जाएगी और पाकिस्तान में भी, ये किस तरह की बात है। वहीं एक दूसरे छात्र कह रहे हैं कि जैसे हमारे इंडियन दोस्तों को ले जाया गया, अब उनकी वहां जांच भी होगी। वैसे ही हमें निकाला जाए और जांच के बाद ही घर जाने दिया जाए। https://www.youtube.com/watch?time_continue=115&v=cFM77cXi2sM&feature=emb_logo     पाकिस्तान ने शुक्रवार को तत्काल प्रभाव से चीन से आने और जाने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है लेकिन वहां रह रहे अपने लोगों को निकालने के लिए कुछ नहीं किया है। इसको लेकर चीन में रह रहे पाकिस्तानियों में नाराजगी है। बता दें कि भारत ने चीन के वुहान से अपने नागरिकों के निकाल लिया है। शनिवार सुबह ही छात्रों के लेकर फ्लाइट वुहान से दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पहुंची है। फ्लाइट से 324 भारतीय लाए गए। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए सुबह तकरीबन साढ़े सात बजे इस विमान से 324 भारतीयों को वापस लाया गया। वुहान से लौटने वालों में 200 से ज्यादा भारतीय छात्र हैं। वुहान, हुबेई की प्रांतीय राजधानी है। यहां कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा संक्रमण देखा जा रहा है। चीन में अब तक कोरोना वायरस ने 259 लोगों की जान ले ली है और 10,000 से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।