1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Video Viral : मंच पर महिला ने खोली Modi Government की पोल, तो केंद्रीय मंत्री के चेहरे की उड़ गई रंगत दिए जांच के आदेश

Video Viral : मंच पर महिला ने खोली Modi Government की पोल, तो केंद्रीय मंत्री के चेहरे की उड़ गई रंगत दिए जांच के आदेश

केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) हर योजना में भ्रष्टाचारमुक्त व पारदर्शिता से लागू करने का दावा करती है, लेकिन आज बिहार में एक सार्वजनिक मंच पर एक महिला ने मोदी सरकार (Modi government)  के दावे की हवा निकाल दी। जिसका अंदाजा किसी को नहीं था। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।महिला के खुलासे यह स्पष्ट हो गया है कि बिहार में ई-श्रम कार्ड (e-shram card) बनाने में जमकर भ्रष्टाचार हुआ है। इसका प्रमाण उस वक्त सामने आया जब कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर केंद्रीय श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली (Union Minister of State for Labor and Employment Rameshwar Teli) लाभार्थियों को कार्ड वितरित कर रहे थे।

By संतोष सिंह 
Updated Date

पटना। केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) हर योजना में भ्रष्टाचारमुक्त व पारदर्शिता से लागू करने का दावा करती है, लेकिन आज बिहार में एक सार्वजनिक मंच पर एक महिला ने मोदी सरकार (Modi government)  के दावे की हवा निकाल दी। जिसका अंदाजा किसी को नहीं था। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

पढ़ें :- PM Kisan Yojana : मोदी सरकार किसानों दे सकती है नए साल का बड़ा तोहफा, जल्द आएगी 10वीं किस्त

महिला के खुलासे यह स्पष्ट हो गया है कि बिहार में ई-श्रम कार्ड (e-shram card) बनाने में जमकर भ्रष्टाचार हुआ है। इसका प्रमाण उस वक्त सामने आया जब कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर केंद्रीय श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री रामेश्वर तेली (Union Minister of State for Labor and Employment Rameshwar Teli) लाभार्थियों को कार्ड वितरित कर रहे थे। इसी बीच केंद्रीय मंत्री ने एक श्रमिक महिला किरण देवी (labor lady kiran devi) को कार्ड देने के दौरान उनसे सवाल पूछा कि उन्हें इस कार्ड को बनाने में किसी तरह का कोई पैसा तो नहीं देना पड़ा। महिला ने इसका जवाब देते भरे मंच में मंत्री से बोल दिया कि उसने इस कार्ड के लिए 100 रुपए चुकाए थे। जबकि केंद्र सरकार गरीबों को मुफ्त में ई-श्रम कार्ड (e-shram card) बना रही है। कार्ड के लिए पैसे देने की बात सुनकर मंत्री का चेहरा लाल हो गया। आस-पास खड़े लोग भी अबाक रह गए। मंत्री ने मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

यह घटना बीते रोज बिहार की राजधानी पटना में एक कार्यक्रम के दौरान घटी। केंद्रीय श्रम संसाधन राज्य मंत्री रामेश्वर तेली (Union Minister of State for Labor and Employment Rameshwar Teli)  लाभार्थियों को ई-श्रम कार्ड(e-shram card)  वितरित कर रहे थे। इसी दौरान ये वाकया हुआ, जब मंत्री समेत मंच पर मौजूद तमाम लोग शर्म से लाल हो गए। बिहार के मजदूरों को ऑनलाइन ई-श्रम कार्ड (online e-shram card) से जोड़ने को लेकर पटना में ई श्रम कार्ड (e-shram card)  वितरण सह निबंधन कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस मंच पर बिहार सरकार के श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा (Labor Resources Minister Jivesh Mishra) मौजूद थे। राज्य सरकार द्वारा राज्य के श्रमिकों को निबंधित करने के लिए ई-श्रम कार्ड (e-shram card) वितरण करने का समारोह चल रहा था।

मंत्री श्रमिक महिला की बात सुनकर चौंक गए और मौके पर मौजूद बिहार सरकार के श्रम संसाधन मंत्री जीवेश मिश्रा (Labor Resources Minister Jivesh Mishra) से कहा कि इस मामले की जांच कराएं। देखें आखिर क्या कुछ मामला है? क्योंकि श्रम संसाधन विभाग श्रमिकों को पैसे देने और सरकारी योजना का लाभ पहुंचाने के लिए यह ई-श्रम कार्ड (e-shram card) बनाने का काम कर रही है न कि श्रमिकों से इसके लिए पैसे लिए जा रहे हैं। इस वाकये के बाद केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार श्रमिक कार्ड (Labor card)  बनाने में एक भी रुपया नहीं ले रही है। यह पूरी तरह से नि:शुल्क है। श्रमिक महिला किरण देवी (labor lady kiran devi) से भी जब मीडिया ने इस संबंध में जानकारी मांगी तो किरण देवी ने कहा कि उन्हें यह कार्ड बनाने में 100 रुपए खर्च करने पड़े।

पढ़ें :- Parliament Session 2021: 12 सांसदों के निलंबन पर बोले अधीर रंजन चौधरी-सरकार डाराने के लिए नया तरीका अपना ली है
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...