1. हिन्दी समाचार
  2. विद्युत विभाग में कड़ाई से लागू होगी भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेन्स की नीति

विद्युत विभाग में कड़ाई से लागू होगी भ्रष्टाचार पर जीरो टालरेन्स की नीति

Vidyut Vibhag Me Bhrashtachar Par Zero Tolrance

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ। प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा के निर्देश पर भ्रष्टाचार पर सरकार की जीरो टालरेन्स की नीति को उप्र पावर कारपोरेशन एवं उसके सहयोगी कम्पनियों में कड़ाई से लागू किया जायेगा। जिसके विरूद्ध भी उपभोक्ता उत्पीड़न या भ्रष्टाचार की शिकायत की जाॅच पेन्डिंग है, उस पर समयबद्ध तरीके से कार्यवाई सुनिश्चित की जायेगी, जहां पर जान बूझकर जांच या विजिलेन्स के मामलों को दबाकर रखा गया है और अभी तक कार्यवाई नहीं की गयी है ऐसे लापरवाह अधिकारियों के विरूद्ध भी प्रभावी कार्यवाही की जायेगी। प्रमुख सचिव ऊर्जा एवं चेयरमैन उ0प्र0 पावर कारपोरेशन आलोक कुमार ने विभागीय अनुशासनात्मक कार्यवाईयों की समीक्षा करते हुए चेतावनी दी।

पढ़ें :- महराजगंज:पैदल आई दुल्हन,सिर पर आया सामान

प्रमुख सचिव ने बताया कि ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा ने स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि विभाग में ईमानदार एवं अच्छी छवि के कार्मिकों को प्रोत्साहन दिया जाये तथा विभाग को भ्रष्टाचार से मुक्त किया जाये। उन्होंने कहा कि मंत्री के निर्देशों के अनुपालन में विभाग में चल रही जाॅचों को समयबद्ध तरीके से पूरा करके दोषियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाई सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने कहा कि ऊर्जा मंत्री ने निर्देश है कि विभागीय कार्य में पारदर्शिता के साथ उपभोक्ताओं की समस्याओं का समयबद्ध निस्तारण किया जाय। किसी भी तरह के भ्रष्टाचार की शिकायत पर जाॅच कराकर संबंधित के खिलाफ कठोर कार्यवाही भी सुनिश्चित की जाय।

प्रमुख सचिव ने बताया कि उ0प्र0 पावर कारपोरेशन द्वारा विद्युत आघात से मृत्यु, बिलों में हेराफेरी, आय से अधिक सम्पत्ति, घूस लेना, सामग्री का त्रृटिपूर्ण लेखांकन, विद्युत चोरी में संलिप्तता, राजस्व हानि पहुचाने एवं लापरवाही आदि अनियमितताओं में दोशी पाये गये 31 कार्मिकों के विरूद्ध अभियोजन चलाये जाने की स्वीकृति प्रदान की गयी है। विद्युत दुर्घटना के मामले में सहायक अभियन्ता विवेक कुमार, शशिवेन्द्र एवं अवर अभियनता संजय कुमार गुप्ता, अखिलेश चन्द्र त्रिपाठी, सत्य प्रकाश यादव, प्रदीप राय व उत्कोच के मामलें में रमेश चन्द्र सहायक अभियन्ता एवं अवर अभियन्ता रोहताश प्रसाद, योगेश कुमार, ब्रजेश कुमार, राम कृत वर्मा, अरविन्द कुमार, अमित कुमार, राकेश कुमार यादव, विजय प्रताप सिंह, सुभाश कश्यप, विजय कुमार श्रीवास्तव व स्टेनों कम टेण्डर लिपिक तथा त्रृटिपूर्ण लेखांकन के सम्बन्ध में गुरू देव सिंह अधीक्षण अभियन्ता, सरेन्द्र कुमार जैन अधिशासी अभियन्ता, रघुनन्दन लाल सहायक अभियन्ता, उपेन्द्र कुमार सिंह उप मुख्य लेखाधिकारी एवं बिलिंग हेराफेरी के मामलों में आफताब अहमद सहायक अभियन्ता तथा विद्युत चोरी के मामलों में अजय शर्मा सहायक अभियन्ता तथा राजस्व हानि एवं लापरवाही के मामलों में लल्लन राम अधिशासी अभियन्ता, राकेश कुमार गुप्ता अधिशासी अभियन्ता, शफातउल्ला खान लिपिक, दिनेश कुमार अवर अभियन्ता, राजेन्द्र अवस्थी अवर अभियन्ता तथा आय से अधिक सम्पत्ति के मामलों में मनमोहन सरन अधीक्षण अभियन्ता, रिशि पाल सिंह अधिशासी अभियन्ता, दीपेश सक्सेना अवर अभियन्ता, के विरूद्ध अभियोजन की स्वीकृति प्रदान की गयी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...