विजय दिवस: आज ही के दिन पाक ने भारतीय सेना के आगे टेके थे घुटने

नई दिल्ली| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को विजय दिवस के मौके पर 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। मोदी ने एक ट्वीट में कहा कि विजय दिवस 1971 के युद्ध में बहादुरी से लड़ने और बलिदान देने वाले जवानों की याद दिलाता है। उन्हें श्रद्धांजलि।




पाकिस्तानी बलों के पूर्वी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल अमीर अब्दुल्ला खान नियाजी ने 93,000 जवानों के साथ हार के बाद बिना शर्त भारत के लेफ्टिनेंट जनरल जगजीत सिह अरोरा के सामने 16 दिसंबर, 1971 को ढाका में आत्मसमर्पण कर दिया था।




भारत-पाक युद्ध के समय जनरल सैम मानेकशॉ भारतीय सेना के प्रमुख थे। इस जंग के बाद बांग्लादेश के रूप में विश्व मानचित्र पर नये देश का उदय हुआ। तक़रीबन 3,900 भारतीय जवान इस जंग में शहीद हुए और 9,851 जवान घायल हुए।

Loading...