1. हिन्दी समाचार
  2. विकास दुबे केस: दबिश से पहले सीओ देवेंद्र मिश्र की एक और आॅडियो वायरल, इन पर लगाए थे गंभीर आरोप

विकास दुबे केस: दबिश से पहले सीओ देवेंद्र मिश्र की एक और आॅडियो वायरल, इन पर लगाए थे गंभीर आरोप

Vikas Dubey Case Another Audio Of Co Devendra Mishra Before Dabish Goes Viral Serious Allegations Made

By शिव मौर्या 
Updated Date

कानपुर। कानपुर के बिकरू गांव में दबिश देने जाने से पहले सीओ देवेंद्र मिश्र और एसपी ग्रामीण के बीच हुई बातचीत का आॅडियो वायरल हो रहा है। इस आॅडियो में सीओ ने पूर्व एसओ समेत अन्य पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं। वायरल आॅडियो में सीओ कह रहे हैं कि राहुल तिवारी और आरोपित विकास दुबे का गांव आसपास ही है।

पढ़ें :- लॉकडाउन में मुकेश अंबानी की हर घंटे 90 करोड़ रुपए कमाई, जानिए कितनी हो गई संपत्ति

दोनों एक ही गांव के हैं, समझ लीजिए। इस पर बातचीत के दौरान एसपी ग्रामीण कहते हैं कि गांव में फोर्स लगाने की जरूरत पड़ेगी। इस दौरान सीओ ने कहा कि एसओ विनय तिवारी पहले ही दबिश की सूचना विकास को दे दिया होगा। सीओ एसपी को बताते हैं कि एसओ विनय तिवारी विकास दुबे के पैर छूता है।

वायरल ऑडियो के मुताबिक सीओ ने फोन पर एसपी ग्रामीण को यह भी बताया कि पहले वाले कप्तान साहब ने सिर पर ज्यादा हाथ रख दिया तो एसओ के तो उसकी जुबान खुल गई थी। इस दौरान बातचीत में एसपी ग्रामीण कहते हैं कि जो रिपोार्ट भेजी गई थी उसमें वह मुक्त हो गया है।

वायरल ऑडियो के मुताबिक सीओ ने एसपी ग्रामीण को बताया था कि एसओ विनय तिवारी 1.5 लाख रुपए लेकर जुआ खिलवा रहा था। उसे लिखापढ़ी में भी चेतावनी दी गई थी मगर वह माना नहीं। बाहर की फोर्स लेकर मैंने खुद छापेमारी की।

सीओ आरोप लगा रहे हैं कि जब पूर्व कप्तान तिवारी जी को बताया तो उन्होंने कहा अभी रिपोर्ट दो मैं कार्रवाई करता हूं। एसओ ने जुआरियों से पांच लाख रुपए लिए और पूर्व कप्तान को ले जाकर दे दिए। इसके साथ ही वायरल हो रहे इस आॅडियो में कई सनसनीखेज आरोप लगाए गए हैं। हालांकि, वायरल हो रहे इस आॅडियो की hindi.pardaphash.com पुष्टि नहीं करता है।

पढ़ें :- महिला कांग्रेस का दिल्ली में विरोध प्रदर्शन, हाथरस की घटना को लेकर देशभर में रोष

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...