विकास दुबे ने पुलिस पूछताछ में बताया घटना वाले दिन कैसे बनाई थी खौफनाक योजना? जानिए पूरा घटनाक्रम

vikash
विकास दुबे केस: बिकरू गांव पहुंची सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित जांच समिति, ग्रामीणों से की बात

लखनऊ। कानपुर एनकाउंटर का मास्टरमाइंड विकास दुबे आज उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया है। उसे यूपी लाने की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। इस बीच विकास दुबे का कबूलनामा सामने आने लगा है। सूत्रों की माने तो पुलिस पूछताछ में विकास दुबे ने घटना से जुड़ी कई अहम जानकारी दी है।

Vikas Dubey Told In Police Interrogation How Plan Was Dreaded On The Day Of The Incident Know The Full Story :

सूत्र बतातें हैं कि पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद उनके शवों को जलाने की साजिश की थी, ताकि सुबूत मिट जाए। इसके लिए उसने घर के ठीक बगल में कुंए के पास 5 पुलिसकर्मियों की लाशें को एक के ऊपर एक रखा था। जिससे उनमें आग लगा कर सबूत नष्ट कर दिये जाए।

आग लगाने के लिये घर में गैलनों में तेल रखा गया था। लेकिन लाशें इकट्टठा करने के बाद उसे मौक़ा नहीं मिला और वह फ़रार हो गया। सूत्रों ने बताया कि शहीद सीओ देवेंद्र मिश्रा के बारे में पूछताछ पर विकास दुबे ने बताया कि उसकी उनसे बनती नहीं थी। कई बार वो मुझसे देख लेने की धमकी दे चुके थे। पहले भी बहस हो चुकी थी। विनय तिवारी ने भी बताया था कि सीओ तुम्हारे ख़िलाफ़ हैं। लिहाजा मुझे सीओ पर ग़ुस्सा था।

लखनऊ। कानपुर एनकाउंटर का मास्टरमाइंड विकास दुबे आज उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया है। उसे यूपी लाने की प्रक्रिया तेजी से चल रही है। इस बीच विकास दुबे का कबूलनामा सामने आने लगा है। सूत्रों की माने तो पुलिस पूछताछ में विकास दुबे ने घटना से जुड़ी कई अहम जानकारी दी है। सूत्र बतातें हैं कि पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद उनके शवों को जलाने की साजिश की थी, ताकि सुबूत मिट जाए। इसके लिए उसने घर के ठीक बगल में कुंए के पास 5 पुलिसकर्मियों की लाशें को एक के ऊपर एक रखा था। जिससे उनमें आग लगा कर सबूत नष्ट कर दिये जाए। आग लगाने के लिये घर में गैलनों में तेल रखा गया था। लेकिन लाशें इकट्टठा करने के बाद उसे मौक़ा नहीं मिला और वह फ़रार हो गया। सूत्रों ने बताया कि शहीद सीओ देवेंद्र मिश्रा के बारे में पूछताछ पर विकास दुबे ने बताया कि उसकी उनसे बनती नहीं थी। कई बार वो मुझसे देख लेने की धमकी दे चुके थे। पहले भी बहस हो चुकी थी। विनय तिवारी ने भी बताया था कि सीओ तुम्हारे ख़िलाफ़ हैं। लिहाजा मुझे सीओ पर ग़ुस्सा था।