विनेश का डबल धमाका, ओलंपिक कोटा के बाद ब्रॉन्ज मेडल भी जीता

vinesh
विनेश का डबल धमाका, ओलंपिक कोटा के बाद ब्रॉन्ज मेडल भी जीता

नई दिल्ली। स्टार रेसलर विनेश फोगाट (Vinesh Phogat) ने भारतीय खेलप्रेमियों को एक दिन में दो बार खुश होने का मौका दे दिया है। उन्होंने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप (World Wrestling Championships) में बुधवार को 53 किग्रा वर्ग में जर्मनी की मारिया प्रेवोलारकी को 4-1 से हराकर कांस्य पदक जीत लिया है।

Vineshs Double Blast Also Won Bronze Medal After Olympic Quota :

विनेश फोगाट ने मेडल जीतने से कुछ देर पहले भारत को अगले साल जापान में होने वाले ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) का कोटा भी दिलाया। विनेश टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) के लिए कुश्ती में ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली पहली भारतीय पहलवान हैं।

हरियाणा की स्टार रेसलर विनेश फोगाट ने रेपेचेज राउंड में तीन मैच खेले। उन्होंने पहले मैच यूक्रेन की यूलिया ब्लाहिन्या को हराया। उन्होंने यह बाउट 5-0 से जीती। इसके बाद उनकी अगली भिड़ंत अमेरिका की सारा हिल्डरब्रैंट से हुई। विनेश ने इस मुकाबले में 8-2 से जीत हासिल की। इसी जीत से उन्हें ओलंपिक कोटा भी मिला।  

विनेश ने मगंलवार को टूर्नामेंट की शानदार शुरुआत की थी। उन्होंने क्वालिफिकेशन राउंड में रियो ओलम्पिक की पदक विजेता स्वीडन की सोफिया मैटसन को 13-0 से हराया था। लेकिन प्री क्वार्टर फाइनल में जापान की मायु मुकाइदा के खिलाफ उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। मुकाइदा ने फाइनल में जगह बनाई. इसके साथ ही भारतीय पहलवान को रेपेचेज राउंड में उतरने का मौका मिल गया।

 

नई दिल्ली। स्टार रेसलर विनेश फोगाट (Vinesh Phogat) ने भारतीय खेलप्रेमियों को एक दिन में दो बार खुश होने का मौका दे दिया है। उन्होंने विश्व कुश्ती चैंपियनशिप (World Wrestling Championships) में बुधवार को 53 किग्रा वर्ग में जर्मनी की मारिया प्रेवोलारकी को 4-1 से हराकर कांस्य पदक जीत लिया है। विनेश फोगाट ने मेडल जीतने से कुछ देर पहले भारत को अगले साल जापान में होने वाले ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) का कोटा भी दिलाया। विनेश टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) के लिए कुश्ती में ओलंपिक कोटा हासिल करने वाली पहली भारतीय पहलवान हैं। हरियाणा की स्टार रेसलर विनेश फोगाट ने रेपेचेज राउंड में तीन मैच खेले। उन्होंने पहले मैच यूक्रेन की यूलिया ब्लाहिन्या को हराया। उन्होंने यह बाउट 5-0 से जीती। इसके बाद उनकी अगली भिड़ंत अमेरिका की सारा हिल्डरब्रैंट से हुई। विनेश ने इस मुकाबले में 8-2 से जीत हासिल की। इसी जीत से उन्हें ओलंपिक कोटा भी मिला।   विनेश ने मगंलवार को टूर्नामेंट की शानदार शुरुआत की थी। उन्होंने क्वालिफिकेशन राउंड में रियो ओलम्पिक की पदक विजेता स्वीडन की सोफिया मैटसन को 13-0 से हराया था। लेकिन प्री क्वार्टर फाइनल में जापान की मायु मुकाइदा के खिलाफ उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। मुकाइदा ने फाइनल में जगह बनाई. इसके साथ ही भारतीय पहलवान को रेपेचेज राउंड में उतरने का मौका मिल गया।