जावेद हबीब के ब्यूटी सैलून में तोड़फोड़, हिंदू देवी-देवताओं के चित्रण से नाराज हैं लोग

लखनऊ। हेयर स्टाइलिस्ट जावेद हबीब के एक विज्ञापन में हिंदू देवी देवताओं के अपमानजनक चित्रण से नाराज भीड़ ने शनिवार को यूपी के उन्नाव जिले में स्थित जावेद हबीब सैलून में तोड़फोड़ की। पुलिस के मुताबिक, हिंदू जागरण मंच के नेतृत्व में भीड़ ने राजधानी लखनऊ के करीबी जिले मोतीनगर में स्थित ब्यूटी सैलून में तोड़फोड़ की।
भीड़ ने जब सैलून पर धावा बोला, तब कुछ ग्राहक भी वहां फंसे थे। हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने सैलून के मालिक को अपना सैलून बंद करने और ऐसा न करने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी, जिसके बाद मामले को लेकर पुलिस शिकायत दर्ज की गई। पुलिस की एक टीम ने सैलून पहुंचकर वहां मौजूद कुछ प्रत्यदर्शियों से घटना की बाबत पूछताछ की।
हिंदू जागरण मंच के क्षेत्रीय सचिव विमल द्विवेदी ने कहा कि हिंदू देवी देवताओं का अपमान किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ‘गॉड्स टू विजिट जेएच सैलून’ के कैप्शन वाले विवादास्पद विज्ञापन को लेकर हैदराबाद में हबीब के खिलाफ मामला भी दर्ज किया गया है। हबीब हालांकि मामले में माफ मांग चुके हैं। उनका कहना है कि यह विज्ञापन कोलकाता में उनके एक पार्टनर ने छपवाया था, जिसकी उन्हें जानकारी नहीं थी।

ये है जावेद का बयान-

{ यह भी पढ़ें:- महकमा मेहरबान तो सरकारी भवन बना प्राइवेट 'गोदाम' }

जावेद हबीब ने अपने बयान में कहा, ये महज एक विज्ञापन है, जिसका मकसद किसी की भावनाओं को आहत करना नहीं है। त्यौहारों को देखते हुए ये तस्वीर बनाई गई। जावेद ने कहा, “मेरा धर्म सिर्फ मेरी कैंची है। मेरा मकसद किसी की भावनाओं को आहत करना कभी नहीं रहा। ये विज्ञापन कोलकाता में मेरे सैलून के एक फ्रैंन्चाइज ने बिना मेरी इजाजत बनवाया।”

{ यह भी पढ़ें:- खबर का असर: 1000 करोड़ की बंद अमृत योजनाओं की पुनर्समीक्षा करेगा जल निगम }

Loading...