बेंगलुरु की घटना पर फूटा विराट का गुस्सा, वीडियो शेयर कर जताया विरोध

नई दिल्ली| बेंगलुरु में नए साल के मौके पर लड़कियों के साथ छेड़छाड़ की घटना पर विराट कोहली ने भी गुस्सा व्यक्त किया है| कोहली ने इस घटना से दुखी होकर सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें उन्होंने ऐसी घटनाओं के खिलाफ समाज के सभी वर्गों के लोगों को एक साथ खड़े होने की अपील की है| साथ ही उन्होंने वीडियो में उन लोगों पर भी सवाल उठाए हैं जो ऐसी घटना को होते हुए देखते रहते हैं|

Virat Kohli Condemns Bengaluru Molestation Case :






कोहली ने कहा, “बेंगलुरू में जो भी हुआ वो मेरे लिए बेहद परेशान करने वाला है| उस लड़की के साथ इस तरह की घटना हो रही थी और कुछ बुज़दिल लोग इसे देख रहे थे| उन लोगों को खुद को मर्द कहने का कोई हक नहीं है| भगवान ना करे कभी ऐसे आपके परिवार के किसी सदस्य के साथ हो तो भी क्या आप उसे दूर से खड़े देखते रहेंगे या मदद करेंगे?”

कोहली ने आगे कहा, “कुछ लोग ऐसा सोचते हैं कि इस लड़की ने छोटे कपड़े पहने हैं इसलिए उसके साथ ऐसा होना ठीक है, ये उसकी ज़िंदगी और ये किसी भी लड़की का अपना फैसला है कि वो क्या पहने और क्या नहीं| कुछ लोग सिर्फ इस वजह से खड़े होकर सिर्फ तमाशा देखते हैं| अब ये हम मर्दों की ज़िम्मेदारी है कि हम खड़े होकर इसके खिलाफ आवाज़ उठाएं| इससे भी ज्यादा डरावना ये है कि कुछ लोग ऐसी घटनाओं के बचाव में आ जाते हैं| हमें अपनी सोच को बदलने की ज़रूरत है|”




उन्होंने कहा, “हमें एक समाज के तौर पर ऐसी सोच, ऐसा करने वाले कुछ लोगों के को बदलना होगा| ये घटना मेरे लिए अस्विकार्य और हैरान करने वाली है| मुझे शर्म आ रही है कि मैं इस समाज का हिस्सा हूं| हमें अपनी सोच को बदलने की ज़रूरत है और समाज में महिलाओं को पुरूषों के बराबर दर्जा देना चाहिए, उन्हें सम्मान देना चाहिए| सोच कर देखिए अगर इस जगह आपका परिवार होता तो फिर क्या होता? जय हिंद|”

नई दिल्ली| बेंगलुरु में नए साल के मौके पर लड़कियों के साथ छेड़छाड़ की घटना पर विराट कोहली ने भी गुस्सा व्यक्त किया है| कोहली ने इस घटना से दुखी होकर सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें उन्होंने ऐसी घटनाओं के खिलाफ समाज के सभी वर्गों के लोगों को एक साथ खड़े होने की अपील की है| साथ ही उन्होंने वीडियो में उन लोगों पर भी सवाल उठाए हैं जो ऐसी घटना को होते हुए देखते रहते हैं| कोहली ने कहा, "बेंगलुरू में जो भी हुआ वो मेरे लिए बेहद परेशान करने वाला है| उस लड़की के साथ इस तरह की घटना हो रही थी और कुछ बुज़दिल लोग इसे देख रहे थे| उन लोगों को खुद को मर्द कहने का कोई हक नहीं है| भगवान ना करे कभी ऐसे आपके परिवार के किसी सदस्य के साथ हो तो भी क्या आप उसे दूर से खड़े देखते रहेंगे या मदद करेंगे?" कोहली ने आगे कहा, "कुछ लोग ऐसा सोचते हैं कि इस लड़की ने छोटे कपड़े पहने हैं इसलिए उसके साथ ऐसा होना ठीक है, ये उसकी ज़िंदगी और ये किसी भी लड़की का अपना फैसला है कि वो क्या पहने और क्या नहीं| कुछ लोग सिर्फ इस वजह से खड़े होकर सिर्फ तमाशा देखते हैं| अब ये हम मर्दों की ज़िम्मेदारी है कि हम खड़े होकर इसके खिलाफ आवाज़ उठाएं| इससे भी ज्यादा डरावना ये है कि कुछ लोग ऐसी घटनाओं के बचाव में आ जाते हैं| हमें अपनी सोच को बदलने की ज़रूरत है|" उन्होंने कहा, "हमें एक समाज के तौर पर ऐसी सोच, ऐसा करने वाले कुछ लोगों के को बदलना होगा| ये घटना मेरे लिए अस्विकार्य और हैरान करने वाली है| मुझे शर्म आ रही है कि मैं इस समाज का हिस्सा हूं| हमें अपनी सोच को बदलने की ज़रूरत है और समाज में महिलाओं को पुरूषों के बराबर दर्जा देना चाहिए, उन्हें सम्मान देना चाहिए| सोच कर देखिए अगर इस जगह आपका परिवार होता तो फिर क्या होता? जय हिंद|"