विराट कोहली की एनर्जी और हार न मानने की आदत हमारे लिए बड़ी प्रेरणा: श्रेयस अय्यर

virat
विराट कोहली की एनर्जी और हार न मानने की आदत हमारे लिए बड़ी प्रेरणा: श्रेयस अय्यर

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की जमकर तारीफ की है। अय्यर ने कहा कि वह ऐसे खिलाड़ी हैं जो अपनी सकारात्मक सोच से दूसरों को प्रेरित करते हैं और साथ ही आप उनकी आदतों से काफी कुछ सीखते हैं। इस युवा मिडल ऑर्डर बल्लेबाज ने कहा कि कोहली की ऊर्जा और हार न मानने का स्वाभाव ऐसी चीज है, जो हर खिलाड़ी को प्रेरित करता है।

Virat Kohlis Energy And Habit Of Not Giving Up Is A Big Inspiration For Us Shreyas Iyer :

अय्यर ने कहा, ‘विराट टीम में मौजूद सभी युवा खिलाड़ियों के लिए बेहतरीन उदाहरण हैं क्योंकि उनके पास ऊर्जा और हार न मानने का स्वाभाव है। हम उनसे काफी कुछ सीखते हैं और वह हमें लगातार प्रेरित करते रहते हैं। वह ऐसे इंसान हैं कि अगर वो आपके आस-पास होते हैं तो आप उनकी आदतों और रूटीन को अपना लेते हैं। सिर्फ उनका आस-पास रहना ही नहीं, बल्कि वह जिस तरह से टीम की कप्तानी करते हैं, हमें लगातार प्रेरित करते हैं।’

अय्यर, कोहली से कप्तानी के गुर सीख रहे हैं। वो अपनी कप्तानी में दिल्ली कैपटिल्स (DC) को पिछले साल 7 साल बाद आईपीएल (IPL) के प्लेऑफ में ले गए थे। 2018 में अय्यर को सीजन के बीच में गौतम गंभीर की जगह टीम का कप्तान बनाया गया था और 2019 में उन्होंने पूरे सीजन टीम की कप्तानी की थी।

अय्यर ने कहा, ‘गौतम भाई, खिलाड़ियों, सपोर्ट स्टाफ के साथ मेरा तालमेल अच्छा था और खुशकिस्मती से मैंने कप्तान के तौर पर पहले मैच में 40 गेंदों पर 93 रन बनाए थे (कोलकाता नाइट राइडर्स) के खिलाफ, यह मैच कैपिटल्स ने 55 रनों से जीता था। इसने काफी कुछ बदल दिया क्योंकि फिर सभी लोग मेरी तरफ देखने लगे थे। सभी को काफी विश्वास था कि मैं टीम को अगले स्तर पर ले जा सकता हूं।’

उन्होंने कहा, ‘निजीतौर पर मेरे लिए यह ज्यादा मुश्किल नहीं था क्योंकि मैं अपने दिमाग को इस तरह से तैयार कर चुका था कि अगर मुझे इस स्थिति में लाया जाता है तो मुझे क्या करना है। दिल्ली कैपिटल्स जैसी फ्रैंचाइजी की कप्तानी करना सपने के सच होने जैसा है।’  

भारतीय क्रिकेट टीम के युवा बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की जमकर तारीफ की है। अय्यर ने कहा कि वह ऐसे खिलाड़ी हैं जो अपनी सकारात्मक सोच से दूसरों को प्रेरित करते हैं और साथ ही आप उनकी आदतों से काफी कुछ सीखते हैं। इस युवा मिडल ऑर्डर बल्लेबाज ने कहा कि कोहली की ऊर्जा और हार न मानने का स्वाभाव ऐसी चीज है, जो हर खिलाड़ी को प्रेरित करता है। अय्यर ने कहा, 'विराट टीम में मौजूद सभी युवा खिलाड़ियों के लिए बेहतरीन उदाहरण हैं क्योंकि उनके पास ऊर्जा और हार न मानने का स्वाभाव है। हम उनसे काफी कुछ सीखते हैं और वह हमें लगातार प्रेरित करते रहते हैं। वह ऐसे इंसान हैं कि अगर वो आपके आस-पास होते हैं तो आप उनकी आदतों और रूटीन को अपना लेते हैं। सिर्फ उनका आस-पास रहना ही नहीं, बल्कि वह जिस तरह से टीम की कप्तानी करते हैं, हमें लगातार प्रेरित करते हैं।' अय्यर, कोहली से कप्तानी के गुर सीख रहे हैं। वो अपनी कप्तानी में दिल्ली कैपटिल्स (DC) को पिछले साल 7 साल बाद आईपीएल (IPL) के प्लेऑफ में ले गए थे। 2018 में अय्यर को सीजन के बीच में गौतम गंभीर की जगह टीम का कप्तान बनाया गया था और 2019 में उन्होंने पूरे सीजन टीम की कप्तानी की थी। अय्यर ने कहा, 'गौतम भाई, खिलाड़ियों, सपोर्ट स्टाफ के साथ मेरा तालमेल अच्छा था और खुशकिस्मती से मैंने कप्तान के तौर पर पहले मैच में 40 गेंदों पर 93 रन बनाए थे (कोलकाता नाइट राइडर्स) के खिलाफ, यह मैच कैपिटल्स ने 55 रनों से जीता था। इसने काफी कुछ बदल दिया क्योंकि फिर सभी लोग मेरी तरफ देखने लगे थे। सभी को काफी विश्वास था कि मैं टीम को अगले स्तर पर ले जा सकता हूं।' उन्होंने कहा, 'निजीतौर पर मेरे लिए यह ज्यादा मुश्किल नहीं था क्योंकि मैं अपने दिमाग को इस तरह से तैयार कर चुका था कि अगर मुझे इस स्थिति में लाया जाता है तो मुझे क्या करना है। दिल्ली कैपिटल्स जैसी फ्रैंचाइजी की कप्तानी करना सपने के सच होने जैसा है।'