सहवाग के ट्वीट ने मेरा दिल तोड़ दिया: गुरमेहर कौर

नई दिल्ली| दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में हुई हिंसा के बाद सोशल मीडिया कैंपेन चलाने वाली लेडी श्रीराम कॉलेज की छात्रा गुरमेहर कौर ने कहा है कि पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग के ट्वीट के बाद उसकादिल टूट गया है|




गुरमेहर कौर ने कहा, “सहवाग को मैं बचपन से खेलते हुए देखती आ रही हूं| उनसे ऐसी उम्मीद नहीं थी| उनके ट्वीट ने मेरा दिल तोड़ दिया| बता दें कि दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में पिछले दिनों हुए विवाद के बाद गुरमेहर कौर ने एक फेसबुक पोस्ट लिखा था| उसमें उसने लिखा था कि वर्ष 1999 में करगिल युद्ध के दौरान शहीद हुए उसके पिता को पाकिस्तान ने नहीं, युद्ध ने मारा था| गुरमेहर के इसी ट्वीट के जवाब में सहवाग ने एक ट्वीट किया था| उन्होंने लिखा, “मैंने दो तिहरे शतक नहीं जड़े, मेरे बल्ले ने जड़े थे|

उधर, इस पूरे मामले पर विवाद बढ़ता देख गुरमेहर कौर ने खुद को कैम्पेन से लगा कर लिया है| गुरमेहर ने मंगलवार सुबह ट्वीट किया,”मैं इस कैम्पेन से खुद को अलग कर रही हूं| हर किसी को शुभकामनाएं| मैं गुज़ारिश करती हूं कि मुझे अकेला छोड़ दो| मुझे जो कहना था, कह चुकी हूं।” उन्होंने आगे कहा, “मैं काफी कुछ झेल चुकी हूं और 20 साल की उमर में इससे ज्यादा नहीं झेल सकती| ये अभियान छात्रों को लेकर था, मेरे बारे में नहीं| जो लोग मेरी बहादुरी और साहस पर सवाल उठा रहे हैं| उनसे कहना चाहती हूं कि मैंने ज़रूरत से ज़्यादा ही साबित कर दिया है|”




दरअसल, बुधवार को रामजस कॉलेज के सेमिनार में जेएनयू के छात्र उमर खालिद को वक्ता के तौर पर बुलाए जाने का एबीवीपी के छात्र विरोध करने पहुंचे थे| विरोध हिंसक होने पर करीब 20 छात्र घायल हो गए थे| इस घटना के विरोध में लेडी श्रीराम कॉलेज की छात्रा गुरमेहर ने अपनी फेसबुक फोटो को बदल दिया था| इस तस्वीर में लिखा था, “मैं दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा हूं, मैं एबीवीपी से नहीं डरती हूं|” गुरमेहर ने इसके बाद भी एबीवीपी के विरोध में कई पोस्ट किए थे|