वित्त मंत्रालय ने गड़बड़ी करने वाले बैंक अफसरों की मांगी रपट

नई दिल्ली: वित्त मंत्रालय ने सार्वजनिक बैंकों से कहा है कि वे नोटों को अवैध रूप से बदलने में बैंक अधिकारियों की कथित संलिप्तता के बारे में रपट दें। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी अभियान के दौरान गड़बड़ी करने वालों को हाल ही में आगाह किया था।




वित्त मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि बैंक उन अधिकारियों का ब्योरा देंगे जिन्होंने नोटबंदी की अवधि के दौरान नियमों या सरकार व आरबीआई के निर्देशों का उल्लंघन किया। हालांकि निदेशकों के खिलाफ सतर्कता कार्रवाई वित्त मंत्रालय करता है लेकिन अधिकारियों के खिलाफ विभागी कार्रवाई तो बैंक खुद ही करता है।आरोप है कि नोटबंदी के दौरान कुछ बैंक अधिकारियों ने नियम कायदों का उल्लंघन किया।




उदाहरण के तौर पर सीबीआई ने कोलकाता में बैंक आफ बड़ौदा के अधिकारियों के खिलाफ पुराने नोटों की अदला बदली में नियमों के उल्लंघन के आरोप में मामला दर्ज किया है। एजेंसी ने नोटबंदी के दौरान जो प्राथमिकी दर्ज कीं उनमें एसबीआई, एसबीबीजे व स्टेट बैंक आफ मैसूर जैसे कई बैंकों के अधिकारियों की संलिप्तता की ओर इशारा किया गया है।

प्रधानमंत्री मोदी ने नए साल की पूर्व संध्या पर अपने संबोधन में कहा था कि कुछ सरकारी अधिकारियों ने नोटबंदी के दौरान हालात का गलत फायदा उठाने की कोशिश जिन्हें बख्शा नहीं जाएगा।