1. हिन्दी समाचार
  2. IPL
  3. IPL का स्पांसर VIVO, RSS ने कहा- सैनिकों का अपमान है ये

IPL का स्पांसर VIVO, RSS ने कहा- सैनिकों का अपमान है ये

Vivo Sponsor Of Ipl Rss Said This Is An Insult To Soldiers

By सोने लाल 
Updated Date

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के चीनी प्रायोजकों को लेकर अब विरोध बढ़ता जा रहा है। आरएसएस-संबद्ध स्वदेशी जागरण मंच (एसजेएम) ने सोमवार को कहा कि लोगों को टी -20 क्रिकेट लीग का बहिष्कार करने पर विचार करना चाहिए।

पढ़ें :- IPL 2020: राहुल तेवतिया को लेकर कोच ने पहले ही किया था यह दावा

सैनिकों का अपमान है ये

स्वदेशी जागरण मंच ने कहा कि टी 20 क्रिकेट मैचों का आयोजन करने वाली संस्था इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) द्वारा एक चीनी मोबाइल कंपनी को प्रायोजक बनाने का फैसला चकित करने वाला है। अपने इस निर्णय से आईपीएल गवर्निंग काउंसिल ने चीन के जघन्य कृत्य द्वारा शहीद हुए सैनिकों के प्रति अपना अपमान प्रकट किया है।

देश कर रहा चीनी सामानों का बहिस्कार

उन्होंने कहा कि इस समय, जब देश हमारी अर्थव्यवस्था को बाजारों में चीनी प्रभुत्व से मुक्त बनाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है, सरकार चीनी सामान को हमारे बाजारों से बाहर रखने के लिए सभी प्रयास कर रही हैं, चीनी निवेश को बाहर रखने और चीनी कंपनियों को को बाहर रखने की कोशिश की जा रही है। आईपीएल का यह कृत्य न केवल देश की मनोदशा के प्रतिकूल है, बल्कि यह देश की सुरक्षा और आर्थिक चिंताओं का भी अनादर करता है।

राष्ट्र की सुरक्षा और गरिमा से ऊपर कुछ नहीं

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि हम आईपीएल आयोजकों से आग्रह करते हैं कि वे चीनी कंपनी को अपने प्रायोजकों के रूप में अनुमति देने के अपने फैसले पर पुनर्विचार करें, यदि ऐसा नहीं किया जाता तो कि हमें मजबूरन देशभक्त नागरिकों को आईपीएल का बहिष्कार करने के लिए आह्वान करना होगा। याद रखें राष्ट्र की सुरक्षा और गरिमा से ऊपर कुछ भी नहीं है।

पढ़ें :- महिला खिलाड़ी ने तोड़ा महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड, जानिए पूरा मामला

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...