1. हिन्दी समाचार
  2. बाटी-चोखा के लिए इंतजार करवाया तो दारोगा ने काट दिया भारी चालान, SSP ने क‍िया सस्पेंड

बाटी-चोखा के लिए इंतजार करवाया तो दारोगा ने काट दिया भारी चालान, SSP ने क‍िया सस्पेंड

Waiting For Baati Chokha Then The Inspector Cut A Huge Challan Ssp Suspended

By रवि तिवारी 
Updated Date

लखनऊ। लखनऊ के तालकटोरा थानाक्षेत्र के राजाजीपुरम पोस्ट ऑफिस के सामने बाटी-चोखा बेचने वाले को दरोगा को इंतजार कराना महंगा पड़ गया। तुरंत आदेश न मानने से नाराज दरोगा ने बाटी चोखा वाले की गाड़ी का चालान कर दिया। इस दौरान इंस्पेक्टर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इस वीडियो में इंस्पेक्टर लगातार बाटी चोखा वाले से यह कह रहा है कि तुम जितनी बार यहां पर बाटी चोखा लगाओगे, उतनी बार मैं तुम्हारा गाड़ी का चालान करूंगा। जिसे देखने के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी ने दरोगा को निलंबित कर दिया।    

पढ़ें :- नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली को कम्युनिस्ट पार्टी से किया गया बाहर

सलीमपुर पतौरा निवासी कन्हैया लाल के मुताबिक, सोमवार को तालकटोरा थाने में तैनात दरोगा दिनेश चंद उसकी दुकान पर आए और दस प्लेट बाटी-चोखा देने को कहा। सामान पैक करने के दौरान चोखा कम पड़ने पर उसने थोड़ा इंतजार करने को कहा। दिनेश चंद को यह नागवार गुजरा और वह बिना सामान लिए लौट गया।

कन्हैया के मुताबिक, मंगलवार रात 10 बजे वह दुकान बंद कर परिवार के साथ घर लौट रहा था। इस दौरान पॉल तिराहे के पास दरोगा दिनेश चंद ने उसकी कार रोकी और कागज मांगे, जिन्हें कन्हैया ने दिखा दिया। ऐसे में कोई और रास्ता न सूझने पर दरोगा ने सीट बेल्ट न पहनने की धारा में 2500 हजार रुपये का चालान काटकर उसे थमा दिया।

कार्रवाई से हैरान कन्हैया को सोमवार की घटना याद आ गई और वह हाथ जोड़कर माफी मांगने लगा। हालांकि, दरोगा पर इसका असर नहीं हुआ। इस दौरान वहां मौजूद किसी व्यक्ति ने उनकी बातचीत का एक वीडियो बना लिया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

इसके बाद हरकत में आए एसएसपी लखनऊ ने द्वेष भावना से चालान किए जाने की वजह से इंस्पेक्टर दिनेश सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। साथ ही ऐसे लोगों को कड़ी हिदायत भी दी है कि किसी भी व्यक्ति के साथ द्वेष भावना से चालान ना किया जाए।

पढ़ें :- उत्तर प्रदेश स्थापना दिवसः पीएम मोदी, रक्षामंत्री राजनाथ से लेकर कई नेताओं ने दी बधाई

एसएसपी ने बताया क‍ि दोपहर में मामला आया था, जिसमें कन्हैयालाल तालकटोरा में बाटी चोखा की एक दुकान लगाते हैं। वहां पर इंस्पेक्टर दिनेश सिंह की ड्यूटी थी जिन्होंने चालान करने की धमकी दी। इसका वीडियो सामने आया जिसके बाद उन्हें निलंबित कर दिया गया और सभी से कहा गया है कि किसी प्रकार की द्वेष भावना से काम ना करें।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...