देखिए 500 और 1000 के नोट बंद होने पर क्या राय रखती है पाकिस्तानी मीडिया

नई दिल्ली। 8 अक्टूबर 2016 की तारीख भारतवासियों के जहन में लंबे समय तक रहेगी। इसी तारीख को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश में मौजूद 500 और 1000 के नोटों को गैरकानूनी टेंडर घोषित कर दिया था। यह एक ऐसा फैसला था जिसने 125 करोड़ की आबादी वाले देश को स्तब्ध कर दिया। लेकिन जैसे—जैसे लोगों में सरकार के इस फैसले की वजह जानकारी के रूप में आम आदमी तक पहुंची तो क्या देश क्या दूसरे देश हर ओर भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साहस को सराहना मिलती दिखी। इस बीच ऐसा ही कुछ हमारे पड़ोसी देश और सबसे कट्टर दुश्मन कहलाने वाले पाकिस्तान में भी देखने को मिला। जिसका एक वीडियो इन दिनों यू ट्यूब पर वायरल हो रहा है।




यू—ट्यूब पर वॉयरल हो रहा यह वीडियो एक पाकिस्तानी समाचार चैनल पर हो रही चर्चा का हिस्सा है। जिसमें चैनल के पैनलिस्ट भारतीय प्रधानमंत्री के साहस की प्रशंसा करते हुए कह रहे हैं कि यह एक अच्छा प्रयास है जिससे भारत में रिश्वतखोरी पर रोक लगेगी। इसके साथ ही इस चर्चा में वह यह भी बता रहे हैं कि इस दुनिया के सुपर पॉवर कहलाने वाले अमेरिका में पिछले सौ सालों से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी 100 डॉलर के नोट से ऊपर की करेंसी प्रचलन में नहीं है। ब्रिटेन में आज भी 50 पौंड से ऊपर की करेंसी का प्रयोग में न के बराबर है। जिससे वहां की जनता को रिश्वतखोरी और मंहगाई जैसी समस्याओं से दो चार नहीं होना पड़ता। वे अपनी पुरानी करेंसी को पर आज तक टिके हुए हैं, लेकिन भारत और पाकिस्तान जैसे देशों में नोट बड़े होते जा रहे हैं और उनकी कीमत घटती चली जा रही है।



Watch How Pakistani Midea Reacts On Note Ban In India :

https://www.youtube.com/watch?v=OT0HpSCYi7c
आपको बता दें कि भारत की 85 फीसदी करेंसी 500 और 1000 के नोटों में बाजार में मौजूद है। इस करेंसी की कीमत 15 लाख करोड़ बताई जा रही है। जिस वजह से 500 और 1000 नोटों पर पाबंदी लगने के बाद से लोगों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

नई दिल्ली। 8 अक्टूबर 2016 की तारीख भारतवासियों के जहन में लंबे समय तक रहेगी। इसी तारीख को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश में मौजूद 500 और 1000 के नोटों को गैरकानूनी टेंडर घोषित कर दिया था। यह एक ऐसा फैसला था जिसने 125 करोड़ की आबादी वाले देश को स्तब्ध कर दिया। लेकिन जैसे—जैसे लोगों में सरकार के इस फैसले की वजह जानकारी के रूप में आम आदमी तक पहुंची तो क्या देश क्या दूसरे देश हर ओर भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साहस को सराहना मिलती दिखी। इस बीच ऐसा ही कुछ हमारे पड़ोसी देश और सबसे कट्टर दुश्मन कहलाने वाले पाकिस्तान में भी देखने को मिला। जिसका एक वीडियो इन दिनों यू ट्यूब पर वायरल हो रहा है। यू—ट्यूब पर वॉयरल हो रहा यह वीडियो एक पाकिस्तानी समाचार चैनल पर हो रही चर्चा का हिस्सा है। जिसमें चैनल के पैनलिस्ट भारतीय प्रधानमंत्री के साहस की प्रशंसा करते हुए कह रहे हैं कि यह एक अच्छा प्रयास है जिससे भारत में रिश्वतखोरी पर रोक लगेगी। इसके साथ ही इस चर्चा में वह यह भी बता रहे हैं कि इस दुनिया के सुपर पॉवर कहलाने वाले अमेरिका में पिछले सौ सालों से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी 100 डॉलर के नोट से ऊपर की करेंसी प्रचलन में नहीं है। ब्रिटेन में आज भी 50 पौंड से ऊपर की करेंसी का प्रयोग में न के बराबर है। जिससे वहां की जनता को रिश्वतखोरी और मंहगाई जैसी समस्याओं से दो चार नहीं होना पड़ता। वे अपनी पुरानी करेंसी को पर आज तक टिके हुए हैं, लेकिन भारत और पाकिस्तान जैसे देशों में नोट बड़े होते जा रहे हैं और उनकी कीमत घटती चली जा रही है। [embed]https://www.youtube.com/watch?v=OT0HpSCYi7c[/embed] आपको बता दें कि भारत की 85 फीसदी करेंसी 500 और 1000 के नोटों में बाजार में मौजूद है। इस करेंसी की कीमत 15 लाख करोड़ बताई जा रही है। जिस वजह से 500 और 1000 नोटों पर पाबंदी लगने के बाद से लोगों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।