बगहा में नदी पर बना बांध टूटा,आधा दर्जन से अधिक गांवों में घुसा पानी

e

बगहा। बिहार में मॉनसून आने के बाद से लगातार बारिश हो रही है। लगातार बारिश होने से जगह-जगह जल जमाव लोगों की बड़ी समस्या बन गई है। वहींए नदी का जलस्तर बढऩे से अब खतरा भी महसूस होने लगा है। बांधों की जर्जर हालत लोगों के अंदर डर का माहौल पैदा कर रहा है।

Water In The Village After Dam Break In Bagaha :

ताजा मामला बिहार के बगहा की है जहां लौकरीया थाना क्षेत्र के झीकरी टेंगराहा नदी का उतरवारी बांध टूट गया है। बताया जा रहा है कि वाल्मिकी नगर स्थित गंडक बराज से निकलने वाली दोन नहर पर स्थित पहाड़ी झिक्री टेंग्राहा नदी का जलस्तर बढने से बांध टूट गया है।

दरअसल इलाके में तीन दिनों से लगातार बारिश हो रही है। भारी बारिश से यहां बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। वहीं नदी का बांध टूटने से बाढ़ का पानी बरवा खुर्द, बिनवलिया, भेलाई, नौतनवा, मझौआ समेत आधा दर्जन से अधिक गांव में घुस रहा है। ऐसे में स्थानीय लोगों के लिए यह परेशानी का सबब बन गया है।

गौरतलब है कि दोन नहर और पहाड़ी नदी पूल के कई जगहों पर बांध जर्जर हालत में हैं। वहीं इन तटबंधों पर वर्षों से कोई मरम्मत का कार्य भी नहीं हुआ है।

इसे लेकर कई बार मीडिया में खबरें भी चलाई गई है लेकिन इसके बावजूद कोई काम नहीं किया गया और शुरुआती और पहली बरसात में ही पहाड़ी नदी का बांध टूट गया। अब बाढ़ की आशंका तेज हो गई है और नदी का जलस्तर बढऩे से बांध टूटने के बाद इलाके में अफरा तफरी मची हुई है।

बगहा। बिहार में मॉनसून आने के बाद से लगातार बारिश हो रही है। लगातार बारिश होने से जगह-जगह जल जमाव लोगों की बड़ी समस्या बन गई है। वहींए नदी का जलस्तर बढऩे से अब खतरा भी महसूस होने लगा है। बांधों की जर्जर हालत लोगों के अंदर डर का माहौल पैदा कर रहा है। ताजा मामला बिहार के बगहा की है जहां लौकरीया थाना क्षेत्र के झीकरी टेंगराहा नदी का उतरवारी बांध टूट गया है। बताया जा रहा है कि वाल्मिकी नगर स्थित गंडक बराज से निकलने वाली दोन नहर पर स्थित पहाड़ी झिक्री टेंग्राहा नदी का जलस्तर बढने से बांध टूट गया है। दरअसल इलाके में तीन दिनों से लगातार बारिश हो रही है। भारी बारिश से यहां बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। वहीं नदी का बांध टूटने से बाढ़ का पानी बरवा खुर्द, बिनवलिया, भेलाई, नौतनवा, मझौआ समेत आधा दर्जन से अधिक गांव में घुस रहा है। ऐसे में स्थानीय लोगों के लिए यह परेशानी का सबब बन गया है। गौरतलब है कि दोन नहर और पहाड़ी नदी पूल के कई जगहों पर बांध जर्जर हालत में हैं। वहीं इन तटबंधों पर वर्षों से कोई मरम्मत का कार्य भी नहीं हुआ है। इसे लेकर कई बार मीडिया में खबरें भी चलाई गई है लेकिन इसके बावजूद कोई काम नहीं किया गया और शुरुआती और पहली बरसात में ही पहाड़ी नदी का बांध टूट गया। अब बाढ़ की आशंका तेज हो गई है और नदी का जलस्तर बढऩे से बांध टूटने के बाद इलाके में अफरा तफरी मची हुई है।