देश की शान ‘ताजमहल’ हुआ पानी-पानी, पुरातत्व विभाग के दावों की खुली पोल

agra-tajmahal
देश की शान 'ताजमहल' हुआ पानी-पानी, पुरातत्व विभाग के दावों की खुली पोल

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में जोरदार बारिश ने जलभराव जैसी समस्याएं पैदा कर दी हैं। यूपी के हई हिस्सों में जमीन धंसने, मकान और दीवार गिरने जैसी समस्याएं सामने आ रही है। वहीं आगरा में मौसम की मार ने देश की शान कहे जाने वाले ताजमहल को पानी-पानी कर दिया है। दो दिन की बारिश ने ताजमहल को भी बेहाल कर दिया है। भयकंर बारिश का पानी ताज महल के अंदर घुस गया है।

ताजमहल के आस-पास पानी भरने से पुरातत्व विभाग की पोल खुल गई है कि आखिरकार इतने प्रयास के बाद भी पानी के निकासी तक का कोई इंतजाम नहीं है। बताते चलें कि ताजमहल के रखरखाव में लापरवाही को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को कड़ी फटकार लगाई थी। ताज की हिफाजत का विजन डॉक्यूमेंट का मसौदा पेश करने पर कोर्ट ने सरकार से पूछा था कि ताजमहल के देखरेख की जिम्मेदारी किसकी है, इसका जवाब दिया जाए।

{ यह भी पढ़ें:- आगरा की युवती ने पीएम और सीएम से मांगी इच्छामृत्यु, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान }

कोर्ट ने कहा कि ऐसी हालत देखकर अगर यूनेस्को ने ताजमहल से वर्ल्ड हेरिटेज का दर्जा वापस ले लिया तो क्या होगा। इसपर अटॉर्नी जनरल के.के वेणुगोपाल ने कहा कि यदि इस एतिहासिक स्मारक का विश्व धरोहर का दर्जा वापस लिया जाता है तो यह देश के लिए बहुत ही शर्मिंदगी वाली बात होगी।

बारिश से छह लोगों की मौत-

भारी बारिश से आगरा में पिछले 24 घंटे में छह लोगों की मौत हुई है। राज्य सरकार ने मृतकों के परिजनों को 4 लाख मुआवजा देने का ऐलान किया है। बीते दो दिनों में बारिश से अब तक लगभग 800 करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है।

{ यह भी पढ़ें:- हिमाचल : लगातार जारी हैं बारिश का कहर, पांच लोगों की मौत }

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में जोरदार बारिश ने जलभराव जैसी समस्याएं पैदा कर दी हैं। यूपी के हई हिस्सों में जमीन धंसने, मकान और दीवार गिरने जैसी समस्याएं सामने आ रही है। वहीं आगरा में मौसम की मार ने देश की शान कहे जाने वाले ताजमहल को पानी-पानी कर दिया है। दो दिन की बारिश ने ताजमहल को भी बेहाल कर दिया है। भयकंर बारिश का पानी ताज महल के अंदर घुस गया है। ताजमहल के आस-पास पानी…
Loading...