3000 साल पुरानी ममी से आती थीं अजीबोगरीब आवाजें, वैज्ञानिकों ने रिकॉर्ड किया तो सुनकर उड़े होश

nesyamun-mummy_1580219078_jpeg

नई दिल्ली: आपने ममी से संबंधित कई फिल्में देखी होंगी, जिसमें हजारों साल पुरानी ममी भी अचानक जिंदा हो जाती है या ताबूत में से ही बोलने लगती है। लेकिन जरा सोचिए कि हकीकत में भी ऐसा हो तो क्या होगा। निश्चित ही लोग डर जाएंगे। ब्रिटेन में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला है। यहां ताबूत में रखी एक ममी से अक्सर अजीबोगरीब आवाजें आती रहती थीं, जिसके बाद वैज्ञानिकों ने उसे रिकॉर्ड करने का फैसला किया। जब आवाज रिकॉर्ड हो गया तो उसे सुनकर वैज्ञानिक भी हैरान रह गए।

Weird Voices Used To Come From 3000 Year Old Mummies Scientists Recorded And Listened To Their Senses :

दरअसल, ब्रिटेन के लीड्स सिटी म्यूजियम में एक ममी रखी हुई है, जिसका नाम नीसियामुन है। 3000 साल पुरानी यह ममी मिस्र के राजा फैरो रामसेस-11 के एक पुजारी की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह पुजारी राजा के लिए खबरें लाता था। इसके अलावा वह उन्हें धार्मिक गीत गाकर भी सुनाता था। यहां तक कि उसके ताबूत पर भी लिखा हुआ है कि यह मिस्र की सच्ची आवाज थी।

वैज्ञानिक डेविड होवार्ड ने बताया कि जब भी हवा ममी से होकर गुजरती थी, तो उसके मुंह से अजीबोगरीब आवाजें आती थीं, इसलिए हमने उसकी आवाज को रिकॉर्ड करने का फैसला किया। इसके लिए पहले हमने ममी के गले का सीटी स्कैन किया और फिर थ्री-डी प्रिंटर से उसका वोकल कार्ड (आवाज वाली नली) बनाया। इसके बाद ममी के गले से आवाज निकाली गई।

होवार्ड ने बताया कि ममी के गले से ऐसी आवाज निकली, जैसे वो कराह रहा हो। ये आवाज बिल्कुल वैसी ही थी, जैसी ममी से हवा गुजरने पर आती थी। रिकॉर्ड की आवाज का वीडियो भी है, जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

डेविड होवार्ड ने यह भी बताया कि जब ममी का सीटी स्कैन किया गया तो पता चला कि उसकी जीभ का कुछ हिस्सा गायब था, लेकिन यह क्यों गायब है, इसके बारे में अभी तक पता नही चल पाया है। हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि हजारों साल से रखी ममी की जीभ शायद सड़ गई होगी।

नई दिल्ली: आपने ममी से संबंधित कई फिल्में देखी होंगी, जिसमें हजारों साल पुरानी ममी भी अचानक जिंदा हो जाती है या ताबूत में से ही बोलने लगती है। लेकिन जरा सोचिए कि हकीकत में भी ऐसा हो तो क्या होगा। निश्चित ही लोग डर जाएंगे। ब्रिटेन में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला है। यहां ताबूत में रखी एक ममी से अक्सर अजीबोगरीब आवाजें आती रहती थीं, जिसके बाद वैज्ञानिकों ने उसे रिकॉर्ड करने का फैसला किया। जब आवाज रिकॉर्ड हो गया तो उसे सुनकर वैज्ञानिक भी हैरान रह गए। दरअसल, ब्रिटेन के लीड्स सिटी म्यूजियम में एक ममी रखी हुई है, जिसका नाम नीसियामुन है। 3000 साल पुरानी यह ममी मिस्र के राजा फैरो रामसेस-11 के एक पुजारी की है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह पुजारी राजा के लिए खबरें लाता था। इसके अलावा वह उन्हें धार्मिक गीत गाकर भी सुनाता था। यहां तक कि उसके ताबूत पर भी लिखा हुआ है कि यह मिस्र की सच्ची आवाज थी। वैज्ञानिक डेविड होवार्ड ने बताया कि जब भी हवा ममी से होकर गुजरती थी, तो उसके मुंह से अजीबोगरीब आवाजें आती थीं, इसलिए हमने उसकी आवाज को रिकॉर्ड करने का फैसला किया। इसके लिए पहले हमने ममी के गले का सीटी स्कैन किया और फिर थ्री-डी प्रिंटर से उसका वोकल कार्ड (आवाज वाली नली) बनाया। इसके बाद ममी के गले से आवाज निकाली गई। होवार्ड ने बताया कि ममी के गले से ऐसी आवाज निकली, जैसे वो कराह रहा हो। ये आवाज बिल्कुल वैसी ही थी, जैसी ममी से हवा गुजरने पर आती थी। रिकॉर्ड की आवाज का वीडियो भी है, जो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। डेविड होवार्ड ने यह भी बताया कि जब ममी का सीटी स्कैन किया गया तो पता चला कि उसकी जीभ का कुछ हिस्सा गायब था, लेकिन यह क्यों गायब है, इसके बारे में अभी तक पता नही चल पाया है। हालांकि ऐसा माना जा रहा है कि हजारों साल से रखी ममी की जीभ शायद सड़ गई होगी।